कुवैत सिटी। कुवैत में विदेशी कामगारों को लेकर अप्रवासी कोटा विधेयक लाया जा रहा है, जिससे इस खाड़ी देश में विदेशी कामगारों की संख्या में कटौती की जाएगी। इस विधेयक के मसौदे को कुवैत की नेशनल असेंबली की कानूनी और विधायी समिति ने संवैधानिक भी करार दिया है। हालांकि, इस विधेयक को अभी भी एक अन्य समिति द्वारा वीटो किया जाना है, लेकिन फिर भी भारत की इससे चिंताएं बढ़ गई हैं। दरअसल, कुवैत में बड़ी संख्या में भारतीय काम करते हैं। ऐसे में यदि यह विधेयक पास हो जाता है, तो करीब 7 से 8 लाख भारतीय कामगारों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ेगी। कुवैत में प्रवासियों की सबसे बड़ी संख्या भारतीयों की है।