पेंड्रा। मरवाही उपचुनाव में जोगी परिवार को बड़ा झटका लगा है। निर्वाचन अधिका​री ने ऋचा जोगी के बाद जेसीसीजे प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी का नामांकन निरस्त कर दिया। इसके अलावा बी फॉर्म नहीं होने के कारण JCCJ के एक और उम्मीदवार पुष्पेश्वरी तंवर का नामांकन निरस्त हो गया।

नामांकन निरस्त होने के बाद अमित जोगी ने कांग्रेस पर हमला बोला है। अमित जोगी ने इसे राजनीतिक षडयंत्र बताया है। कहा कि वे इस मामले को लेकर कोर्ट जाएंगे। दूसरी ओर बीजेपी का इस मामले में बयान सामने आया है। पूर्व मंत्री बृजमोहन ने कहा कि अमित जोगी इस फैसले को कोर्ट में चुनौती दें।

कांग्रेस के खिलाफ लगातार बयान सामने आने के बाद राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि हम चाहते थे कि जोगी परिवार में से कोई भी चुनाव लड़े। वहीं विधिवत जांच के बाद ही नामांकन निरस्त हुआ है। इसमें किसी तरह का षडयंत नहीं है। अमित जोगी कांग्रेस पार्टी पर आरोप नहीं लगा सकते। नामांकन फार्म निरस्त या वैध करना जिला निर्वाचन अधिकारी सक्षम होता है।

नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख 16 अक्टूबर थी, वहीं आज नामांकन की स्क्रूटनी हुई। इस प्रक्रिया में आज जिला निर्वाचन अधिकारी ने कुल 6 प्रत्याशियों के नामांकन फॉर्म निरस्त हुआ। वहीं मरवाही उपचुनाव के लिए 13 नामांकन वैध हुए हैं। अमित जोगी, ऋचा जोगी, ओमकरण पोर्ते, गुलाब सिंह, मूलचंद कुशराम और पुष्पेश्वरी तंवर के नामांकन निरस्त हुआ .