जांजगीर। जिला भारतीय जनता पार्टी जांजगीर द्वारा जांजगीर के कचहरी चौक में धान खरीदी में हो रही अव्यवस्था तथा कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों से लगातार किए जा रहे विश्वासघात के संबंध एवं प्रदेश के बस्तर संभाग में आदिवासी किसानों पर हुए लाठी चार्ज के खिलाफ में भारतीय जनता पार्टी द्वारा कचहरी चौक जांजगीर में राज्य सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्षन किया गया एवं राज्यपाल के नाम से ज्ञापन सौंपा गया।
जांजगीर विधायक नारायण चंदेल ने अपने भाषण में कहा कि कांग्रेस अपने योजनाओं में पूरी तरह से विफल रही है, किसानों पर अत्याचार किये जा रहे है, प्रदेश में उन पर लाठी चार्ज किए जा रहे है, किसानों का पूरा धान नही खरीदा जा रहा है, किसानों का रकबा काट दिया जा रहा है जिससे किसानों को सही मूल्य नही मिल पा रहा है, प्रदेश की किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रही है, प्रदेश कि जनता कांग्रेस सरकार के तानाशाही से उब चुकी है। अकलतरा विधायक सौरभ सिंह ने अपने भाशण में कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा किसानों की एक-एक दाना खरीदी का वादा किया गया था जो पूरी तरह से छुठ साबित हुआ, बल्कि उनपे अत्याचार किया जा रहा है, किसानों को धान बेचने के लिए टोकन के लिए कई कई दिनों तक लम्बी लाईनों में लगना पड़ रहा है, जिससे राज्य के किसान परेशान हो चुके है। जिलाध्यक्ष कृष्णकांत चन्द्रा ने अपने भाषण दस सूत्रीय मांग रखी जिसमें धान खरीदी के संबंध में राज्य सरकार श्वेत पत्र जारी करें, किसानों से किये गये वादे के अनुसार सरकार द्वारा दाना-दाना धान खरीदी जाये, कम से कम 15 दिन खरीदी अवधि को बढ़ाया जाये। सभी किसानों को टोकन उपलब्ध कराये जाये, जिन किसानों को टोकन नहीं मिला है, उन्हे टोकन जारी कर धान खरीदी की जायें, कांग्रेस द्वारा किये गये वादे के अनुरूप न्यूनतम 2500 रूपये प्रति क्विंटल कीमत तुरंत दिए जाये। पुलिसिया लाठी चार्ज में घायल हुए किसानों की मुफ्त चिकित्सा समेत उन्हे उचित मुआवजा दी जाय। एक जांच कमिटी गठन कर लाठी चार्च के दोशियों की पहचान कर उन्हे दण्डित किया जाये, किसानों के खिलाफ प्रदेश भर में दायर तमाम मुकदमों को तत्काल प्रभाव से वापस लिए जाये। किसानों को दो साल का बकाया बोनस शीघ्र दिया जाय, साथ ही उन्हे नो ड्यूज जल्द से जल्द जारी किये जाएं ताकि वे अगली फसल के लिए ऋण आदि प्राप्त कर सकें। धान खरीदी का लक्ष्य बढ़ा कर एक करोड़ मीट्रिक टन किया जाय। जबरन काटे गए रकबे को फिर से जोड़ा जाय। पूर्व सांसद श्रीमती कमला देवी पाटले ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार किसानों पर अत्याचार कर रही है, उनके धान खरीदी के लिए उचित व्यवस्था नही किया गया है, और ना कि किसानो का सही मात्रा में खाद उपलब्ध करवा पा रही है और ना ही उनको समय पर उन्हे ऋण की मोहैया करवा रही है, जिससे किसानों को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ रहा है।
पूर्व जिलाध्यक्ष मेघाराम साहू ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह से अपने वादा निभाने में असमर्थ रही है, किसानों से वादाखिलाफ ी किया गया, सही समय पर किसानों का धान नही खरीदा गया, प्रदेश भर में किसानों का हालत खराब होती जा रही है, किसानों को उचित दाम ना देकर प्रदेष की सरकार उनपे लाठी चार्ज करवा रही है, उन पर मुकदमा जलाया जा रहा है जिससे राज्य के किसान पूरी तरह से परेषान हो चुके है। धरना प्रदर्शन में विधायक नारायण चंदेल, जिलाध्यक्ष कृष्णकांत चन्द्रा, विधायक सौरभ सिंह, पूर्व सांसद कमला देवी पाटले, पूर्व जिलाध्यक्ष मेघाराम साहू, जिला महामंत्री अमर सुल्तानिया, ग्यारसी मोदी, श्रीमती रत्नी देवांगन, मोतीलाल डहरिया, खिलावन साहू, रामप्रकाश केषरवानी, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष मीरा पत्की, नंदनी राजवाड़े, संजीव बंजारे, विवका गोपाल, गुलाब सिंह चंदेल, बलराम पाण्डेय, मनमोहन देवांगन, सुमित प्रताप सिंह ने भी किसानों की समस्या को लेकर भाशण दिया। धरना प्रदर्शन का सफल संचालन भाजपा जिला महामंत्री अमर सुल्तानिया द्वारा किया गया। आभार प्रदर्षन हितेश यादव ने किया। धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से हितेश यादव, रमेश सोनवानी, मुकेश भोपालपुरिया, सुधीर झाझडिय़ा, मणीकांत अग्रवाल, नीतेश स्वर्णकार, राजेन्द्र केडिया, सत्तू साहू, नरेन्द्र कौषिक, जितेन्द्र देवांगन, श्रीमती कल्याणी साहू, शैलेन्द्र पाण्डेय, सनत पाण्डेय, षिवचमन सिंह, अमित यादव, अजित गढ़ेवाल, प्रदीप सोनी, टिकेष्वर गबेल, लखन सिंह कंवर, मयंक परमहंस, अभिमन्यु राठौर, उमेष राठौर, शशिकांत राठौर, उमा राठौर, उमा सोनी, गौरी रानी गुईन, भुवन भास्कर, मनोज मिश्रा, समीर शुक्ला, परमेश्वर राठौर, अमृत लाल साहू, संतोश राठौर, राजू यादव, प्रभाश सिंह, भुपेन्द्र यादव, भुवनेष्वर साहू, सहित बड़ी संख्या में भाजपा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्तागण उपस्थित थे।