नईदिल्ली, 26 नवम्बर [एजेंसी]।
तूतीकोरिन पिछले करीब दस दिन से चलाये जा रहे अभियान में भारतीय तटरक्षक ने एक श्रीलंकाई नौका से 100 किलोग्राम हेरोइन समेत मादक पदार्थ और बंदूकें जब्त कीं। खुफिया सूचनाओं के आधार पर 17 नवंबर को शुरू हुए अभियान के बाद जब्ती के सिलसिले में चालक दल के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। भारतीय तटरक्षक ने कहा कि यहां समुद्र तट के पास 24 नवंबर को नौका की पहचान की गई थी। तटरक्षक ने एक विज्ञप्ति में कहा कि उसे खुफिया एजेंसियों से मिली विश्वसनीय सूचना मिली थी कि समुद्री मार्ग से भारत में मादक पदार्थों की अवैध खेप की तस्करी की जा रही है। बाद में सामने आया कि इस खेप को श्रीलंका की एक नौका से भेजा जा रहा है। इसके बाद तटरक्षक के पांच जहाजों को तस्करों को पकडऩे के लिए तैनात किया गया। इसके अलावा इस अभियान में दो विमानों को भी लगाया गया।विज्ञप्ति में कहा गया कि तूतीकोरिन के दक्षिण में मंगलवर को संदिग्ध श्रीलंकाई नौका का पता चला और आईसीजीएस वैभव ने गुप्त तरीके से नौका का पीछा किया और कल शाम कन्याकुमार से करीब 10 नॉटिकल मील दूर सही अवसर पर इस पर कब्जा किया।
संदिग्ध नौका की तलाशी में हेरोइन के 99 पैकेट, सिंथेटिक मादक पदार्थों के 20 डिब्बे, नौ एमएम की पांच पिस्तौल और एक सेटेलाइट फोन सेट मिला। इसमें बताया गया कि शुरुआती पूछताछ में चालक दल के सदस्यों ने बताया कि कराची से एक पाकिस्तानी पोत द्वारा श्रीलंकाई नौका शेनाया दुवा पर मादक पदार्थ भेजे जा रहे थे। तटरक्षक ने कहा कि भारतीय तटरक्षक मादक पदार्थों, हथियारों की हमारे देश में तस्करी के किसी भी प्रयास को नाकाम करने के लिए प्रतिबद्ध है। इस बीच तटरक्षक ने एक ट्वीट में कहा कि त्वरित और समन्वित अभियान में 100 किलोग्राम हेरोइन समेत अन्य सामग्री जब्त की गई।