नीदरलैंड, ३० जून [एजेंसी]।
राजस्थान के उदयपुर में एक ऐसा मामला सामने आया जब पैगंबर के ऊपर कथाकथित विवादित बयान देने वाली नुपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने वाले कन्हैया लाल का सिर तन से जुदा कर दिया गया है। जिसको लेकर पूरे देश में रोष है। वहीं भारत के राजस्थान राज्य में घटिन हुए इस बर्बर घटना को लेकर देश के हर कोने से प्रतिक्रिया आ रही है। लेकिन अह यूरोप के एक देश ने उदयपुर की घटना के पर न केवल अपनी प्रतिक्रिया दी बल्कि भारत को आगाह भी किया। डच सांसद की तरफ से उदयपुर की घटना को लेकर भारत से इस्लाम का तुष्टिकरण नहीं करने की अपील की गई और कहां गया कि ये बहुत महंगा पड़ सकता है। नीदरलैंड के सांसद गिर्ट विल्डर्स ने ट्वीट करते हुए कहा कि भारत के एक मित्र के रूप में मैं आपसे कहता हूं, सहिष्णु के प्रति सहिष्णु होना बंद करें। चरमपंथियों, आतंकवादियों और जिहादियों के खिलाफ हिंदू धर्म की रक्षा करें। इस्लाम को खुश मत करें, क्योंकि यह आपको महंपड़ेगा। हिंदुओं को ऐसे नेता चाहिए जोउनकी पूरी 100त्न रक्षा करे सके! एक अन्य ट्वीट में विल्डर्स ने कहा कि भारत में हिन्दुओं को सुरक्षित होना चाहिए। यह उनका देश है, उनकी मातृभूमि है, यह उनका है!
भारत कोई इस्लामिक राष्ट्र नहीं है।गौरतलब है कि खाड़ी समेत मुस्लिम बहुल देशों में बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा की पैगंबर को लेकर दिए विवादित बयानों को लेकर जहां तमाम देशों की तरफ से निंदा की थी। वहीं बीजेपी ने न केवल नुपुर के बयान से किनारा किया बल्कि उन्हें पार्टी से भी बाहर का रास्ता दिखा दिया। लेकिन नीदरलैंड के सांसद गिर्ट विल्डर्स ने खुलकर नुपुर का समर्थन किया था। विल्डर्स ने भारतीयों से नूपुर शर्मा का समर्थन करने का आह्वान करते हुए कहा था कि अल-कायदा जैसे इस्लामी आतंकवादियों के आगे कभी न झुकें, वे बर्बरता का प्रतिनिधित्व करते हैं।