नईदिल्ली, ३० जून [एजेंसी]।
चुनाव आयोग ने घोषणा की कि भारत के उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 6 अगस्त को होगा। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त होगा। संविधान के अनुच्छेद 68 के अनुसार, निवर्तमान उपाध्यक्ष के पद की अवधि की समाप्ति के कारण हुई रिक्ति को भरने के लिए चुनाव कार्यकाल की समाप्ति से पहले पूरा किया जाना आवश्यक है। चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पांडे की उपस्थिति में एक बैठक में मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया।6 अगस्त को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक होगा और उसी दिन वोटों की गिनती की जाएगी। चुनाव आयोग 5 जुलाई को चुनाव बुलाने की अधिसूचना जारी करेगा। नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 19 जुलाई है। नामांकन की क्रुरूटनी 20 जुलाई को होगी और आवेदन वापस लेने की आखिरी तारीख 22 जुलाई है। इस बीच, राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई को होने हैं और परिणाम 21 जुलाई को घोषित किए जाएंगे। मतों की गिनती भी छह अगस्त को ही होगी। उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य भाग लेते हैं। इस चुनाव में मनोनीत सदस्य भी शामिल होते हैं। उपराष्ट्रपति नायडू का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पांडे की बैठक में उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया गया। चुनाव आयोग को यह सुनिश्चित करना अनिवार्य है कि भारत के उपराष्ट्रपति के पद का चुनाव एक स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव होना चाहिए और आयोग अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी का निर्वहन करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठा रहा है। चुनाव आयोग ने एक बयान में कहा, 16वें उप-राष्ट्रपति चुनाव के लिए आज चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करते हुए भारत का चुनाव आयोग विशेषाधिकार प्राप्त और सम्मानित महसूस कर रहा है।