नई दिल्ली: कांग्रेस के भीतर के कलह पर पार्टी के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद का बड़ा बयान सामने आया है. बिना नाम लिए उन्होंने आलाकमान पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस सबसे निचले स्तर पर है. पार्टी के बड़े नेताओं का कार्यकर्ता से संपर्क टूट गया है. फाइव स्टार होटलों में बैठकर चुनाव नहीं लड़ सकते.

गुलाम नबी आजाद ने कहा, “जो लोग वहां होते हैं उनका कनेक्ट लोगों के साथ टूट गया है. ब्लॉक के लोगों के साथ, जिलों के लोगों के साथ कनेक्ट टूट गया है. समस्या ये है कि जब हमारी पार्टी में कोई पदाधिकारी बनता है तो वो लेटर पैड तो छाप देता है और विजटिंग कार्ट बना देता है. वो समझता है कि मेरा काम बस खत्म हो गया. काम तो उस वक्त से शुरू होना चाहिए.”

इतना ही नहीं गुलाम नबी आजाद ने एक शेर भी पढ़ा. उन्होंने कहा, “पार्टी से इश्क होना चाहिए. ये इश्क नहीं आसान बस इतना समझ ली जे, इक आग का दरिया है और डूब के जाना है. लोग समझते हैं कि लड़कियों से प्रेम करना ही इश्क है. भगवान से इश्क, अपने पीर पैगंबर से भी इश्क, अपने धर्म से भी प्यार होता है.”

बता दें कि अगले महीने संभावित तौर पर कांग्रेस के अध्यक्ष पद का चुनाव होना है. पहले भी अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर विवाद हो चुका है. नेताओं ने चिट्ठी लिखी थी उस पर भी विवाद हो गया था. अब गुलाम नबी आजाद ने जो बयान दिए हैं उससे ये सवाल खड़ा होता है कि क्या एक बार फिर अध्यक्ष पद को लेकर एक बार फिर विवाद होगा?