कोरबा। कोयलांचल के बांकीमोंगरा में आवारा कुत्तों ने आतंक मचा रखा है। ये आवारा कुत्ते कभी भी किसी भी घर में घुस जा रहे हैं और लोगों को नोंच-खसोट दे रहे हैं। ताजा घटनाक्रम में दो आवारा कुत्ते एसईसीएल कर्मी के घर घुस गए और वहां आंगन में खेल रहे दो साल के मासूम को अपना शिकार बनाया। आवारा कुत्ते उसे बुरी तरह नोंच डाले। बच्चे की रोना सुनकर मां मौके पर पहुंची और कुत्तों के मुंह से मासूम को छुड़ाकर उसकी जान बचाई।
जानकारी के अनुसार एसईसीएल कर्मी अखलेश साहू की एक ही बच्ची है जिसका नाम वंशिका है और वो दो साल की है।उसकी पत्नी सीमा घर पर रोटी बना रही थी और वंशिका घर के बाहर रोज की तरह खेल रही थी। कुछ देर बाद वंशिका की चीखपुकार सुनाई पड़ी तब सीमा किचन से भागते हुए बाहर निकली और देखा तो दो आवारा कुत्ते मासूम वंशिका को नोंचते हुए उठा कर ले जा रहे हैं। सीमा पत्थर और डंडे से मार कर दोनों कुत्ते को भगाने की कोशिश करती रही फिर भी दरिंदे कुत्ते मासूम को नोचते रहे। माँ ने जैसे तैसे अपनी मासूम बच्ची वंशिका को कुत्तों के मुह से छीनकर उसके प्राण बचाए।
इस घटना के बाद वंशिका को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ उसका उपचार शुरू हुआ।वंशिका के शरीर को कुत्तों ने पूरी तरह काट डाला है उसके सिर हाथ पैर और पेट मे लगभग 150 से भी अधिक जगह कुत्तों ने काट लिया है जिससे उसकी हालत गभीर बनी हुई है।