कुएं में मिला था शव
कोरबा। चार दिन पहले कटघोरा के महेशपुर क्षेत्र में संदिग्ध हालत में एक छात्रा की मौत के मामले में पुलिस की जांच जारी है। फोरेंसिक जांच के बाद अब कई टीमें इसमें जुटी हुईं है। शार्ट पीएम रिपोर्ट में गला दबाने की बात सामने आने के बाद अब पुलिस का ध्यान इस बात पर केंद्रित है कि आखिर घटना को अंजाम देने वाला हत्यारा एक था या एक से अधिक।
विकासखंड पोड़ी उपरोड़ा के पाथा की निवासी दिव्या गोंड़ की मौत पर पुलिस ने पहले ही मर्ग कायम किया है। शार्ट पीएम रिपोर्ट में गला दबाने की पुष्टि होने के साथ धाराएं जोड़ दी गई है। पहले से इस बात की आशंका जताई जा रही थी कि मामला खुदकुशी के बजाय हत्या का हो सकता है और आखिरकार अगली जांच में इसका खुलासा हो गया। घटना स्थल के पास एक जगह मृतका का बैग मिला था जिसमें उसकी पुस्तकें व कपड़े थी। इस आधार पर पुलिस आगे की जांच कर रही है। कटघोरा के एसडीओपी ईश्वर त्रिवेदी सहित कटघोरा, बांगो और अन्य क्षेत्र की टीमें इस मामले में जांच के लिए लगाई गई है। संबंधित एंगल के आधार पर छात्रा की हत्या किये जाने को लेकर संलिप्त लोगों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है। इससे पहले पुलिस ने परिजनों से जरूरी जानकारी हासिल की है। घटना दिवस से पहले रंजना गांव से छात्रा के निकलने से लेकर अगले दिवस तक उसके संपर्क में आने वाले लोगों का डाटा गुप्तचरों के जरिए इक_ा किया जा रहा है। पुलिस को लगता है कि ऐसी कोई खास वजह रही होगी जिसके बाद छात्रा की हत्या कर दी गई और फिर उसका शव कुएं में फेंक दिया गया। उम्मीद जताई जा रही है कि दूसरे मामलों की तरह दिव्या गोंड़ की हत्या के इस मामले में आरोपियों तक पुलिस के हाथ पहुंचेंगे और उन्हें जेल भेजने का रास्ता प्रशस्त होगा।

Previous articleगजदल ने कटमोरगा में फसलों को किया मटियामेट
Next articleप्रेम नगर में युवक ने की खुदकुशी