कोरबा। एनसीडीसी के जमाने में कोरबा क्षेत्र में अपने कार्यों के लिए कोयला कंपनी के द्वारा ली गई लीज की जमीन क्या उसी रूप में सरकार को वापस की जा सकेगी। यह सवाल अब लगातार कंपनी के अधिकारियों को परेशान कर रहा है। वर्तमान में यह जमीन एसईसीएल के पास है। एसईसीएल मुड़ापार बेरियर के बायीं तरफ सागौन प्लांटेशन को अतिक्रमण करने वालों ने अपने हिसाब से चिन्हांकित किया है। फटे-पुराने कपड़ों से यहां की घेराबंदी की गई है। कुछ दिनों पहले पाइप लाइन के पास किये गए अवैध कब्जे को नगर निगम ने ध्वस्त कर दिया था। हेलीपेड क्षेत्र में भी इसी प्रकार का काम एक बार फिर शुरू हो गया है। एक-दो मौके पर औपचारिक कार्रवाई करने के साथ निगम शांत हो गया। इसलिए यहां अब ताबड़तोड़ तरीके से अतिक्रमण किया जा रहा है। इस स्थिति में कई प्रकार की चुनौतियां एसईसीएल के सामने निर्मित हो रही है। अधिकारी इस बात से परेशान हैं कि कब्जा नहीं रूका तो लीज पर ली गई जमीन यथास्थिति में कैसे लौटाएंगे।

Previous articleसाली को लेकर शंका में साढू ने किया मारपीट
Next articleएल्यूमिनियम से खुल रहे नई संभावनाओं के द्वार