जांजगीर। ग्राम पंचायत पोरथा के पंचायत प्रतिनिधियों ने कलेक्टर से शिकायत करते हुए सब्जी मंडी में कराए गए अवैध निर्माण को हटाने की मांग की है। ग्राम पोरथा के आश्रित ग्राम डोंगिया के पास सब्जी मंडी के लिए जमीन आवंटित की गई है। इस पर सब्जी मंडी संचालित की जा रही है। प्रस्ताव का ग्राम सभा में अनुमोदन भी नहीं हुआ है। ग्राम पंचायत द्वारा उक्त भूमि को सब्जी मंडी के लिए आवंटित किया गया है, लेकिन उस पर सब्जी मंडी को सब्जी मंडी विक्रेता संघ द्वारा संचालित किया जा रहा है।
पंचायत प्रतिनिधियों ने आरोप लगाया है कि सब्जी मंडी विक्रेता संघ के पदाधिकारियों द्वारा दादागिरी की जा रही है। बड़े व्यापारियों के द्वारा छोटे व्यापारियों को धंधा नहीं करने दिया जा रहा है, जिस कारण ग्राम वासियों में भारी आक्रोश है। सरपंच मधु राठौर ने बताया कि सब्जी मंडी के लिए प्रस्तावित किया गया है न कि सब्जी मंडी विक्रेता संघ के लिए। साथ ही सब्जी मंडी विक्रेता संघ द्वारा मनमाने ढंग से अवैध निर्माण पंचायत के अनुमति के बगैर करवाया गया है।
इसे तोडऩा बहुत जरूरी है। सरपंच ने कहा कि उक्त सब्जी मंडी से ग्राम पंचायत को किसी प्रकार का लाभ मिल रहा है और न ही ग्रामवासियों को। जिससे क्षुब्ध होकर ग्राम पोरथा द्वारा पंचायत में सब्जी मंडी हटाने व अवैध निर्माण को तोडऩे का प्रस्ताव पारित किया गया है।
अवैध निर्माण नहीं हटाया गया तो करेंगे आंदोलन
ग्राम पंचायत से सब्जी मंडी हटाने व अवैध निर्माण को तोडऩे का प्रस्ताव पारित कर दिया गया है। अवैध निर्माण नहीं हटाया गया तो पंचायत पदाधिकारी और ग्रामवासियों द्वारा आंदोलन किया जाएगा।
-श्रीमती मधु राठौर, सरपंच, पोरथा