नईदिल्ली,1७ अक्टूबर ।
यमुनानगर पुलिस ने जगाधरी की शान्ति कालोनी मे नकली शराब बनाने वाली एक फैक्ट्री को पकडऩे मे सफलता हासिल की है ।
पुलिस ने फैक्ट्री से देसी शराब की करीब 150 पेटी, हजारों खाली बोतलें, मशीनरी व अन्य समान बरामद किया है । पुलिस अधीक्षक कमल दीप गोयल ने बताया की गत 11 सितंबर को पुलिस ने रादौर में नकली देसी शराब की सैकडों बोतले बरामद की थी। जांच के दौरान पुलिस की एसआईटी की टीम ने प्रदेश में नकली शराब का धंधा चलाने के मुख्य आरोपी पानीपत निवासी विकास को गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने बताया कि जगाधरी के शांति कॉलोनी में अवैध शराब बनाने का धंधा चल रहा है । मामले की गंभीरता को देखते हुए उन्होने स्वयं पुलिस की कई टीमों के साथ फैक्टरी पर रेड की। यहां देव इंडस्ट्री का बोर्ड लगी फैक्ट्री में नकली शराब बनाई जा रही थी। शराब बनाने की डिस्टलरी की तरह यहां पर पूरा सेटअप था। यह फैक्ट्री शहर के ट्रांसपोर्टर की है उसने आगे विकास को किराए पर दी हुई थी।
बाहर बोर्ड लगा था प्लास्टिक के ड्रम खरीदने और बेचने के लिए संपर्क करें। जब पुलिस ने फैक्ट्री के अंदर रेड की तो वहां पर बड़ी मात्रा में नकली शराब मिली। वहीं पुलिस को वहां पर बोतलें बनाने की मशीन, नकली लेबल, 15000 खाली बोतलें, 150 शराब की पेटियां बरामद हुई थी। खाली बोतलों से लेकर लेबल तक यहां पर बनता था। यहां पर नकली जगाधरी नंबर वन, रसीला संतरा और माल्टा शराब तैयार की जा रही थी। एसपी कमलदीप गोयल ने बताया की फैक्ट्री से कुछ मजदूर भी पुलिस ने हिरासत में लिए हैं । मामले मे गंभीरता से जांच की जा रही है ।