मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर।/ कलेक्टर पी.एस ध्रुव के द्वारा गत बुधवार को हुई समयसीमा की बैठक में विभागीय समीक्षा ले दौरान प्राप्त आवेदन का निराकरण आगामी सप्ताह के भीतर करने के निर्देश दिए गए। साथ ही उन्होंने टी.एल. प्रकरणों के भी जल्द निराकरण के लिये विभागों को निर्देशित किया। उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को टीम गठित कर घुमंतू बच्चों का सर्वे करने के निर्देश दिये। बता दें कि बीते दिनों जिला भ्रमण के दौरान कलेक्टर ने घुमंतू बालक प्रिंस का स्कूल में दाखिला कराया था। इसके साथ ही कार्यालयों की स्वच्छता एवं नगर की साफ-सफाई हेतु संबंधित अधिकारियों को भी निर्देशित किया।
कलेक्टर श्री ध्रुव ने धान खरीदी केन्द्रों एवं गौठानों का निरीक्षण करने हेतु नोडल अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए। उन्होंने सड़क निर्माण व संधारण के कार्यों की समीक्षा करते हुए पीएमजीएसवाई के कार्यों के लिये ईई से नाराजगी जताई। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग को 03 दिवस के भीतर आदिवासी विभाग के लंबित प्रकरणों के निराकरण के निर्देश दिए। वन अधिकार पट्टों के संबंध में डीएफओ से चर्चा की। कलेक्टर ने सुपोषण अभियान, आंगनबाड़ी संचालन एवं शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार हेतु तहसीलदार एवं बीईओ को स्कूलों के निरीक्षण के निर्देश दिए। साथ ही जाति प्रमाण पत्र जारी करने के कार्य को मिशन मोड में पूरा करने कहा। कलेक्टर ने स्वास्थ्य, खाद्य, सुपोषण अभियान, गोधन न्याय योजना, वन अधिकार पत्र, स्वामी आत्मानंद विद्यालय, रीपा की समीक्षा करते हुए तत्काल प्रगति लाने के कड़े निर्देश दिए और कहा कि कमियां पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने जिला प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री द्वारा घोषणा एवं निर्देश का पालन और जन चौपाल में प्राप्त आवेदन का निराकरण अविलंब करने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया। बैठक में संयुक्त कलेक्टर सुश्री अभिलाषा पैकरा, डिप्टी कलेक्टर सीएस पैकरा, प्रवीण भगत, एसडीएम मनेन्द्रगढ़ अभिषेक कुमार, एसडीएम खडग़वां श्रीमती नयनतारा सिंह तोमर एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।