जांजगीर-चाम्पा। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने अकलतरा विकासखण्ड के अंतर्गत अनेक ग्रामों का दौरा कर विकासकार्यों का जायजा ही नहीं लिया, अपितु ग्रामीणों के बीच चौपाल लगाकर उन्हें शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए इसका लाभ उठाकर आगे बढऩे कहा। चौपाल में जब एक ग्रामीण ने आवारा पशुओं के विचरण से परेशानी होने और इसे दूर करने की मांग रखी तो कलेक्टर ने ग्रामीणों को बताया कि सरकार द्वारा गांव-गांव में गौठान इसीलिए प्रारंभ किया गया है कि आप लोग अपने मवेशी को गौठान में भेजे। उसके गोबर को एकत्र कर बेचे और गांव के गौठान में महिलाओं को जोड़कर आजीविका गतिविधियां संचालित करें। सरकार आपकों समृद्ध बनाने के लिए योजनाएं ला रही है। आप इसका लाभ उठाये। गांव आपका है और आप भी अपनी जिम्मेदारी को समझिए तभी गांव का विकास संभव होगा।
कलेक्टर श्री सिन्हा ने आज अकलतरा ब्लॉक के ग्राम कटघरी में राजस्व समाधान शिविर में ग्रामीणों से मुलाकात की। उन्होंने शासन के योजनाओं की जानकारी देने के साथ उनकी समस्याओं को सुनते हुए निराकरण भी किया। कलेक्टर ने ग्रामीणों को बताया कि गांव में सभी को मिलजुलकर और विकास की राह में आगे बढऩे की दिशा में काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी शिकायतों के लिए पहले ग्राम स्तर पर निराकरण की कोशिश करें। इसके बाद तहसीलदार, एसडीएम के पास जाएं। यहां भी निराकरण न हो तभी कलेक्टर के पास आए। कलेक्टर ने ग्राम चंदनिया में जल संरक्षण को लेकर बनाए गए डबरी, कटघरी में राजस्व समाधान शिविर, ग्राम बरगवां में धान खरीदी केंद्र, गौठान और अमोरा में ग्रामीणों से मुलाकात कर योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान एसडीएम श्रीमती ममता यादव, जनपद सीईओ, तहसीलदार आदि उपस्थित थे।
ग्रामीणों से लिया फीडबैक और किया समस्याओं का समाधान
कलेक्टर श्री सिन्हा ने ग्राम कटघरी और अमोरा में ग्रामीणों से चर्चा की। चौपाल के माध्यम से उन्होंने छत्तीसगढ़ी में संवाद करते हुए पहले तो योजनाओं की जानकारी दी, फिर गांव के लोगों को समय पर राशन मिलने, स्कूल व आंगनबाड़ी समय पर खुलने, मध्यान्ह भोजन और पोषण आहार का वितरण होने, शिक्षकों के समय पर स्कूल आने, पटवारी-सचिव के मुख्यालय में रहने के संबंध में ग्रामीणों से जानकारी ली। उन्होंने ग्रामीणों को मानस मण्डली का चिन्हारी पोर्टल में पंजीयन, राजीव गांधी भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना, गोधन न्याय योजना, गौ-मूत्र, धान के बदले अन्य फसल लेने पर दिए जाने वाले लाभ, पशुपालन से आमदनी सहित अन्य योजनाओं की जानकारी देते हुए योजनाओं का लाभ उठाने और गौठान में मवेशियों के लिए पैरादान की अपील की। कलेक्टर ने शिविर में ऋण पुस्तिका का वितरण किया। इस दौरान वन अधिकार पत्र, फौती, अवैध शराब निर्माण, दिव्यांग के उपचार संबंधी आवेदन पर ग्रामीणों की समस्याओं को सुनते हुए निराकरण की बात कही। उन्होंने ग्रामीणों को कुपोषण और एनीमिया के बारे में बताते हुए कहा कि गांव के आंगनबाड़ी में अण्डा-केला और पूरक पोषण आहार, गरम भोजन दिया जाता है। कुपोषण को दूर करने बच्चों को आंगनबाड़ी अवश्य भेजे और एनीमिक महिलाएं भी गरम भोजन का लाभ लें। उन्होंने डबरी निर्माण के माध्यम से ग्राम अमोरा में जल संचय करने और पानी के स्तर को बढ़ाने कहा। ग्राम अमोरा में उन्होंने स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पादों का अवलोकन किया और ब्रांडिंग, पैकेजिंग के संबंध में निर्देश दिए।
नल-जल के कार्यों में गति लाने के निर्देश
कलेक्टर ने जल जीवन मिशन अंतर्गत कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश देते हुए पेयजल आपूर्ति शीघ्र घरों में करने के निर्देश दिए। ग्राम कटघरी और अमोरा में उन्होंने जल जीवन मिशन के कार्यों की जानकारी ली। ग्राम कटघरी में उन्होंने ग्रामीण लक्ष्मण कुमार के घर लगे नल की जांच भी। मौके पर उपस्थित पीएचई के अधिकारी को कलेक्टर ने गुणवत्ता के साथ कार्य करते हुए शीघ्र टंकी निर्माण करने और पेयजल आपूर्ति के निर्देश दिए।
धान खरीदी और गौठान का किया निरीक्षण
कलेक्टर ने धान खरीदी केन्द्र बरगवां में धान खरीदी केन्द्र और गौठान का निरीक्षण किया। उन्होंने धान खरीदी में लापरवाही नहीं करने और पूरी पारदर्शिता बरतने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने धान खरीदी में किसानों की सुविधाओं का ख्याल रखने तथा किसी प्रकार के गड़बड़ी किए जाने पर सख्त कार्यवाही करने की बात कही। कलेक्टर ने धान खरीदी के साथ केन्द्र में समय पर धान का उठाव करने के निर्देश दिए। गौठान में उन्होंने महिला स्व सहायता समूह के सदस्यों से आजीविका गतिविधियों के संबंध में चर्चा की। कलेक्टर ने यहां पानी की व्यवस्था के साथ डबरी निर्माण, मुर्गी एवं मछली पालन, मशरूम उत्पादन को बढ़ावा देने की दिशा में कदम उठाने तथा पौधारोपण के निर्देश दिए। कलेक्टर ने गोबर खरीदी, वर्मी निर्माण एवं विक्रय के साथ गाय को गौठान तक लाने के निर्देश दिए।
विद्यार्थियों को किया प्रेरित, निर्माण कार्यों में प्रगति लाने के दिए निर्देश
कलेक्टर श्री सिन्हा ने स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम स्कूल अकलतरा का निरीक्षण किया। यहां विद्यार्थियों के बैठने और लाइब्रेरी तथा लैब की समस्या को दूर करने तैयार किए जा रहे कमरों का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने और समय पर काम पूरा करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने विद्यार्थियों की क्लास लेकर उन्हें सामान्य ज्ञान के प्रति प्रेरित किया।