अवैध भ_ों पर खनिज विभाग की दबिश, 5 लाख ईंट जब्त
जांजगीर-चांपा। बिना अनुमति ईंट बनाकर बेचने वाले तीन ईंट भट्ठा संचालकों पर खनिज विभाग ने कार्रवाई की है। इन तीनों से करीब 5 लाख ईंट जब्त की गई है। लॉकडाउन के दौरान घर बनाने वालों की कमी नहीं है। नौकरी पेशा लोगों से लेकर आम लोगों को भी काम कराने के लिए पर्याप्त समय मिला है। सरकारी नौकरी करने वालों ने इस समय का उपयोग आवास बनवाने में भी किया है। वहीं ईंट बनाने वालों के लिए भी यह समय कमाई का रहा है। कोरोना के कारण जबरन मजदूरों के शॉर्टेज व सामान नहीं मिलने के बहाने बनाकर मनमानी कीमत में ईंट बेची गई है। लॉकडाउन से पहले एक ट्रैक्टर यानि 2 हजार बंगला ईंट 6 हजार रुपए तक में बिके, लेकिन लॉकडाउन के बाद यह कीमत 8 हजार रुपए तक पहुंच गई है। चूंकि लोगों को घर बनाने के लिए जरूरी है इसलिए लेना भी मजबूरी है। लोगों की इसी मजबूरी का फायदा उठाने के लिए नदी किनारे रहने वालों ने भी ईंट बनाने का व्यवसाय शुरू कर दिया। पामगढ़ क्षेत्र के ग्राम भुईगांव व तनौद में अवैध रूप से ईंट बनाने की शिकायत खनिज अधिकारी एनके कुजूर को मिली थी।
* कोरबा। बाजार में इन दिनों पुटू की आवक बढ़ गई है। स्वाद के कारण लोग इसकी सब्जी बनाकर खाना पसंद करते हैं।