सक्ती। प्रदेश सरकार कोरोना संक्रमण से लडऩे पूरी तरह से तैयार है वहीं वर्तमान में संक्रमण तो बढ़ रहा है लेकिन स्थिति नियंत्रित है। ये बातें जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कही। जिले के मालखरौदा और डभरा ब्लॉक में प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कार्यक्रम था जो मौसम खराब होने के कारण स्थगित हो गया। इस कार्यक्रम में राजस्व एवं जिले के प्रभारी मंत्री भी शामिल होने जा रहे थे। उन्होंने पूर्व मंत्री नोवेल वर्मा के घर जाकर मुलाकात की। अग्रवाल ने चर्चा में बताया कि पहले कोरोना के लहर में संक्रमण की स्थिति अलग थी वहीं दूसरी लहर में कोरोना संक्रमण की स्थिति ज्यादा भयावह थी। लेकिन तीसरी लहर ज्यादा खतरनाक नहीं है मगर लोगों को सावधान रहनेकी जरूरत है। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट और जिला न्यायालय ने वर्चुअल सुनवाईहो रही है, लेकिन राजस्व न्यायालय में ऐसा नहीं हो पा रहा है। इस बार टीकाकरण के चलते संक्रमण का खतरा कम है। फिर भी जो वैक्सीन से छूट गए हैं वे जरूर टीका लगवाएं। इससे परिवार और समाज भी सुरक्षित रहेगा। अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में दवाईयों की व्यवस्था, अस्पताल में बेड की व्यवस्था, आक्सीजन और वेंटीलेटर की व्यवस्था पूरी तरह से की जा चुकी है ताकि किसी भी विपरित परिस्थिति से लड़ा जा सके। अग्रवाल ने आगे कहा कि अभी प्रदेश में कोई गंभीर स्थिति नहीं है और भगवान ने चाहा तो कोई गंभीर स्थिति नहीं होगी। साथ ही समय परिस्थियों के अनुसार आगे निर्णय लिया जाएगा। राजस्व न्यायालयों को भी वर्चुअल करने और जरूरत बड़ी तो फिजिकल सुनवाई बंद किया जा सकता है। इस दौरान पूर्व नपा अध्यक्ष श्याम सुंदर अग्रवाल, महबूब भाई, अधिवक्ता संतोष जायसवाल, गिरधर जायसवाल, पिन्टू ठाकुर, राकेश गबेल नितेश वर्मा उपस्थित थे।

Previous article15 डॉक्टर और 28 कर्मचारियों के संक्रमित होने से बढ़ी समस्या
Next articleदिल्ली, पंजाब और कश्मीर को दहलाने की साजिश नाकाम आईएसआई और खालिस्तानी आतंकियों का हाथ होने की आशंका