जांजगीर-चाम्पा। कलेक्टर यशवंत कुमार ने आज जिला स्तरीय कोविड -19,कोर कमेटी की बैठक में कहा कि नवरात्रि, दशहरा, दीपावली आदि त्यौहारों में भीड़भाड़ वाले कार्यक्रम आयोजित नहीं होंगे। त्यौहार के अवसर पर कोविड-19 की रोकथाम के लिए जन जागरूकता के ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उन्होंने एसपी श्रीमती पारुल माथुर एवं जिला पंचायत सीईओ श्री तीर्थराज अग्रवाल से कहा कि जनजागरूकता के ऑनलाइन कार्यक्रम में पेंटिंग, डांस, रंगोली आदि के प्रतियोगिता आयोजित करें। कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार कर ज्यादा से ज्यादा लोगों को भाग लेने के लिए प्रेरित किया जाए।
कलेक्टर ने कहा कि नवरात्रि पर्व पर मंदिरों में केवल ज्योति कलश स्थापित किया जाएगा। मंदिरों में भीड़-भाड़ ना हो इसका विशेष ध्यान रखें। मंदिरों में आरती आदि को सोशल मीडिया के माध्यम से ऑनलाइन प्रसारित करने के लिए आयोजकों को प्रेरित करें। ताकि लोग घर बैठे इन आयोजनों में शामिल हो सके।
कलेक्टर ने कहा कि 14 अक्टूबर तक मुनादी और वाल राइटिंग के माध्यम से कोविड की रोकथाम के लिए स्वास्थ विभाग के एडवाइजरी का विशेष रूप से प्रचार-प्रसार नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों मे किया जा रहा है। प्रचार-प्रसार के बाद 15 अक्टूबर से निर्देशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ अर्थदंड की कार्रवाई की जाएगी। मास्क नहीं पहनने वालों को आर्थिक दंड के साथ तत्काल मास्क उपलब्ध कराया जाएगा। महिला स्व सहायता समूह द्वारा तैयार किए गए मास्क प्रदान किए जाएंगे। जिसका शुल्क अर्थ दंड की प्राप्त राशि मे से भुगतान किया जाएगा। अर्थदंड करने वाली टीम को मास्क एडवांस में उपलब्ध कराया जाएगा।
कलेक्टर ने कहा कि कोविड केयर सेंटर्स में ऑक्सीजन पाइप लाइन की व्यवस्था शीघ्र पूरी करवा ली जाए। जिससे मरीजों को इसका शीघ्र लाभ मिले। कलेक्टर ने कहा कि होम आइसोलेशन के मरीजों से टेलीफोन के माध्यम से उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहें। स्वास्थ्य निगरानी की जिम्मेदारी संबंधित डॉक्टरों की है। इस पर सतत निगरानी रखें।
कलेक्टर ने कहा कि 49 ऑक्सीजन कंसंटेटर उपलब्ध करवाया जा रहा है। जिसे आवश्यकता अनुसार कोविड केयर सेंटर्स में उपलब्ध कराया जाएगा। जिससे मरीजों के उपचार में इसका उपयोग किया जा सके। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारुल माथुर, जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल, एडीएम श्रीमती लीना कोसम सहित कोविड कोर कमेटी के सदस्य उपस्थित थे।