जांजगीर-चांपा। कलेक्टर द्वारा जिले में धान खरीदी कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही या गड़बड़ी पाए जाने पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश लगातार दिए जा रहे हैं। इसी क्रम में तहसील बलौदा अंतर्गत सेवा सहकारी समिति कोरबी में फर्जी पंजीयन की शिकायत पाए जाने पर जिला स्तरीय संयुक्त दल द्वारा जांच किया गया। जांच में अनियमितता पाए जाने पर ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी एस के जोगी तथा धान खरीदी केन्द्र प्रभारी सह ऑपरेटर विकास सिंह को नियमानुसार निलंबित कर पुलिस थाना में प्राथमिक सूचना रिपोर्ट भी दर्ज कराया गया है। इसके साथ ही उक्त कार्य में संलिप्त श्रीमती पूजा अग्रवाल पति जितेन्द्र और जितेन्द्र अग्रवाल पिता गोविंद अग्रवाल के विरूद्ध भी संबंधित पुलिस थाने में प्राथमिक सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। अतिरिक्त कलेक्टर एस पी वैद्य द्वारा बताया गया कि जिले में धान खरीदी कार्यों से संबंधित किसी भी प्रकार के फर्जी पंजीयन, अवैध धान के विक्रय तथा अन्य गड़बड़ी पाए जाने के विरूद्ध जांच के लिए अनुविभाग स्तर पर चार जांच दल का गठन किया गया है तथा धान खरीदी कार्यों में किसी भी प्रकार की अनियमितता पाए जाने पर संबंधितों के विरूद्ध लगातार कठोर कार्रवाई जारी रहेगी। सेवा सहकारी समिति कोरबी में पाए गए अनियमितता के जांच दल में अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्रीमती कमलेश नंदिनी साहू, उप पंजीयक उमेश गुप्ता, नोडल अधिकारी जिला सहकारी बैंक अश्वनी पांडेय, सहायक अधीक्षक भू-अभिलेख शाखा विनय पटेल उपस्थित थे।