जांजगीर-चांपा। नाबालिग को घर से भगाकर ले जाने और उसके साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी युवक के कब्जे से नाबालिग को बरामद कर आरोपी को न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। आरोपी युवक नाबालिग को भगाकर कोरबा ले गया था और वहां रखकर ढाई साल तक दुष्कर्म करता रहा। मामला कोतवाली थाना का है। कोतवाली थाना प्रभारी लखेश केंवट ने बताया कि 13 अप्रैल 2018 को थाने में आकर एक व्यक्ति ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 28 मार्च 2018 को वे पति-पत्नी नहाने तालाब गये थे। वापस आने पर उसकी बेटी घर में नहीं थी। आसपास पता करने पर भी वह नहीं मिली। इस बीच जानकारी मिली कि अवरीद निवासी रामायण कश्यप (21) पिता बीरबल कश्यप उसके घर आया था और उसकी बेटी को अपने साथ ले गया है। परिजनों ने रामायण कश्यप पर नाबालिग को भगाकर ले जाने का संदेह व्यक्त करते हुए थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस धारा 363 भादवि कायम कर अपहृत बालिका की पतासाजी कर रही थी। गुरूवार 25 जून 2020 को जांजगीर पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि कोरोना संक्रमण के चलते आरोपी रामायण अपने घर लौटा है और अपहृत बालिका को अपने घर में छिपाकर रखा है। सूचना पर पुलिस गांव पहुंची और अपहृत बालिका को आरोपी रामायण कश्यप के कब्जे से बरामद किया। आरोपी नाबालिग को भगाकर कोरबा ले गया था और वहीं रखकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। पुलिस ने आरोपी रामायण कश्यप को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।