नई दिल्ली: पंजाब विधान सभा चुनाव से ठीक पहले शिरोमणि अकाली दल को बड़ा झटका लगा है. शिरोमणि अकाली दल के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के निवर्तमान अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा भाजपा में शामिल हो गए हैं. सिरसा की भाजपा में जॉइनिंग के दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गजेंद्र सिंह शेखावत मौजूद रहे.

पंजाब चुनाव पर होगा असर?
भाजपा में शामिल होने से पहले मनजिंदर सिंह सिरसा ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. सिरसा दो बार दिल्ली से विधायक रहे हैं और लंबे समय तक दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के विभिन्न पदों पर सेवाएं दे चुके हैं. शेखावत ने इस अवसर पर कहा कि सिरसा के भाजपा में शामिल होने से पंजाब विधान सभा के चुनाव में पार्टी को बहुत लाभ होगा. अगले साल की शुरुआत में पंजाब में विधान सभा के चुनाव होने हैं.

DSGMC अध्यक्ष पद से इस्तीफा
बीजेपी में शामिल होने से पहले मनजिंदर सिंह सिरसा ने दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया. सिरसा ने कहा, ‘निजी कारणों से दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देता हूं. देश और दुनिया के सिखों ने काफी मान बक्शा है. अगले चुनाव से भी खुद को दूर रखूंगा. अपने सदस्य, शुभचिंतकों का धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने अब तक साथ दिया.’

Previous articleछत्तीसगढ़: पुराने बारदाने में धान लाने पर किसानों को मिलेंगे प्रति बोरा 25 रुपए; पहले 18 रुपए थी कीमत
Next articleएरियर्स भुगतान का आदेश जारी, खुशखबरी मिलते ही सरकारी कर्मचारियों में खुशी का माहौल