नई दिल्ली। योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के ऊपर मद्रास हाईकोर्ट ने 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। पतंजलि के ऊपर यह जुर्माना ‘कोरोनिल’ ब्रांड का इस्तेमाल किए जाने पर लगाया गया है। इसके साथ ही कोर्ट ने पतंजलि को कोरोनिल शब्द का इस्तेमाल बंद करने का भी आदेश दिया है। पिछले दिनों पतंजलि आयुर्वेद द्वारा कोरोना की दवा बनाने का दावा किया गया था और इस दवा का नाम कंपनी ने कोरोनिल रखा था। लेकिन टेस्टिंग को लेकर विवाद उठ खड़ा हुआ और इधर सरकार ने भी इसे मंजूरी नहीं दी। जिसके बाद पतंजलि ने इसे इम्युनिटी बूस्टर बताकर मार्केट में उतार दिया। उधर चेन्नई स्थित एक कंपनी ्रह्म्स्रह्वह्म्ड्ड इंजीनियरिंग प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी ने कोरोनिल ब्रांड पर अपना दावा ठोकते हुए मद्रास हाईकोर्ट में याचिका दायर की।