कोरबा। कोरबा जिले में कोरबा, कटघोरा और पोड़ी उपरोड़ा अनुविभाग के बाद अब पाली को कटघोरा से पृथक कर चौथा अनुविभाग घोषित कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ राज्य शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के द्वारा 18 नवंबर 2020 को पाली को नवीन अनुविभाग बनाए जाने की राजपत्र (असाधारण) में 7 नवंबर 2020 को प्रारंभिक अधिसूचना जारी की गई है। प्रशासनिक व्यवस्था के दृष्टिकोण से कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने डिप्टी कलेक्टर अरूण कुमार खलखो को पोड़ी उपरोड़ा से हटाकर पाली अनुविभागीय अधिकारी राजस्व में नवीन पदस्थापना आदेश जारी किया है। डिप्टी कलेक्टर संजय कुमार मरकाम उप तहसील भैंसमा से पोड़ी उपरोड़ा एसडीएम पदस्थ किए गए हैं। जल्द ही पाली में एसडीएम कार्यालय का भी शुभारंभ होने की तैयारी की जा रही है। प्रशासनिक तौर पर इसकी संपूर्ण औपचारिकता पूरी कर ली गई है।

यहां उल्लेखनीय है कि पाली महोत्सव के अवसर पर सांस्कृतिक मंच से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मांग पर नगर में एसडीएम कार्यालय के शीघ्र स्थापना की घोषणा की थी। पाली ब्लाक अंतर्गत 90 से भी अधिक ग्राम पंचायत हैं जिनमें से अधिकांश सुदूर वनांचल क्षेत्रों में स्थित हैं। ग्रामीणों को एसडीएम स्तर के काम के लिए कटघोरा पर आश्रित होना पड़ रहा है जिसमे समय और धन का अपव्यय होता है। सांसद श्रीमती ज्योत्स्ना महंत की पहल पर वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर सांसद प्रतिनिधि प्रशांत मिश्रा की मांग पर सप्ताह में हर गुरुवार को एसडीएम की सेवा क्षेत्रवासियों को मिल रही थी। वह भी विगत कुछ माह से बंद हो गई। इसे लेकर सांसद प्रतिनिधि प्रशांत मिश्रा ने रायपुर प्रवास पर मुख्यमंत्री को उनकी घोषणा की ओर ध्यानाकर्षण कराया था। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कोरबा जिले में नई तहसील दर्री और हरदी बाजार के औपचारिक घोषणा के साथ ही पाली में एसडीएम कार्यालय खोले जाने की घोषणा की। पाली क्षेत्र की बहुप्रतीक्षित मांग पूरा होने से क्षेत्र के हजारों ग्रामीणों को राहत मिलेगी। उन्हें उम्मीद है कि उनके विभिन्न राजस्व प्रकरणों का शीघ्रता शीघ्र निराकरण हो पाएगा।