अकलतरा। व्यवसायी के घर घुस कर बिना कुछ बताये व्यवसायी से गोबरा नवापारा के प्रशिक्षु डीएसपी, थाना प्रभारी व आरक्षकों द्वारा व्यवसायियों व उनके परिवार के सदस्यों के साथ दुव्र्यवहार किये जाने के विरोध में अग्रवाल सेवा समिति ने आज एसपी और बिलासपुर में आईजी को ज्ञापन सौप कर कड़ी कार्यवाही की मांग की हैं।
शिकायत में बताया गया हैं कि १७ अक्टूबर को सुबह ९ बजे इनोवा कार में गोबरा नवापारा के प्रशिक्षु डीएसपी थानेदार एवं पुलिस के जवान सिविल ड्रेस में शास्त्री चौक प्रेम कमानिया के मोबाइल दुकान पहुँचे एवं बिना किसी वारंट के प्रेम कमानिया से दुव्र्यवहार करते हुए बिना शर्ट और चप्पल के अपनी गाड़ी में बैठा लिया। एवं उसे लेकर प्रेम कमानिया के बड़े भाई रवि कमानिया जो मिनी माता चौक स्थित घर पर पहुँचे। इस दौरान पुलिस के जवानों ने मारपीट भी की हैं। रवि कमानिया के घर पहुँचने पर वहाँ भी परिवार के सदस्यों को बिना सर्च वारंट दिखाए परिवार के सभी सदस्यों का मोबाईल छिन लिया एवं रवि अग्रवाल से मारपीट एवं धक्का देकर गाली गलौज करने लगें तीन घंटो तक परिवार के सदस्यों को बिना किसी महिला पुलिस के बैठाये रखा। घर के समानो क ो बिखेर दिया,व पुलिसकर्मी बिना मास्क लगाये घर के अंदर घुस गये। तीन घण्टे के खोजबीन के बाद कुछ भी हाथ नहीं लगने पर गोबरा नवापारा के पुलिस वापस चले गयें पूरे घटना क्रम से नगर के व्यवसायियों एवं अग्रवाल समाज में आक्रोश व्याप्त हो गया ।आज अग्रवाल सेवा समिति के द्वारा आईजी के नाम पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर को ज्ञापन सौंपकर गोबरा नवापारा के पुलिस कर्मचारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करनें की मांग की हैं। बिलासपुर में आईजी को भी इस आशय का ज्ञापन दिया गया हैं। ज्ञापन सौपने वालों में अग्रवाल सेवा समिति के अध्यक्ष विनोद सिंघानिया, सचिव राजन केडिया। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष विजय केडिया, सचिव मनोज गोयल, कमल केडिया, राजकुमार केडिया, विजय सिंघानिया, जुगल लिखमानिया, दीपक बगडिय़ा, राजू अग्रवाल, रतन अग्रवाल, गगन सिंघानिया, गिरधारी कमानिया, विजय सोमानी, मनोज अग्रवाल, अमित केडिया, आशीष केडिया एवं अग्रवाल समाज के सदस्य शामिल थे।