जांजगीर-चांपा। कोरोना के मरीज अब शहर में भी मिल रहे हैं। पिछले 24 घंटे के भीतर जिला मुख्यालय जांजगीर में आधा दर्जन लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। बुधवार की रात को नैला के कोरोना संक्रमित व्यापारी के परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी इसके बाद गुरूवार को जांजगीर के वार्ड क्रमांक 22 भाठापारा में पति-पत्नी और नहरिया बाबा मंदिर रोड के एक कॉलोनी के युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस तरह जांजगीर में अब तक 8 लोग कोरोना से संक्रमित मिल चुके हैं।
जिला मुख्यालय जांजगीर के केरा रोड में निवास करने वाले पति-पत्नी को सर्दी बुखार की शिकायत थी। गुरूवार को उनकों इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में पति – पत्नी का एंटीजन रैपिड कीट से जांच की गई जिसमें दोनों कोरोना संक्रमित पाए गए। इसी तरह नहरिया बाबा मंदिर मार्ग के एक कालोनी के युवक ने जिला अस्पताल पहुंचकर अपनी कोरोना जांच कराई। जिला अस्पताल के डॉक्टरों ने युवक का सैंपल लेकर टू नॉट मशीन से जांच की गई जिसमें बैंककर्मी युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। संक्रमित मरीजों को इलाज क ेलिए कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया है। वहीं बुधवार की रात को नैला के कोरोना संक्रमित व्यापारी के संपर्क में आने वाले तीन सदस्यों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई। दरअसल तीन दिन पहले नैला के वार्ड 05 के एक व्यापारी को तबीयत खराब होने पर इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया था। अस्पताल में एंटीजन रैपिड कीट से उसकी सैंपल लेकर जांच की गई थी जिसमें उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बुधवार की रात को व्यापारी के संपर्क में आने वाले परिवार के तीन सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। गुरूवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम फिर व्यापारी के घर पहुंची और संपर्क में आने वाले अन्य सदस्यों का सैंपल लिया। नैला में अब तक पांच लोग संक्रमित मिल चुके हैं। जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने बताया कि गुरूवार को वार्ड क्रमांक 22 भाठापारा जांजगीर और नहरिया बाबा मंदिर मार्ग में एक कोरोना संक्रमित मिला है। सभी मरीजों को इलाज के लिए कोविड अस्पताल जांजगीर में भर्ती कराया गया है। जिला मुख्यालय जांजगीर में अब तक आठ लोग संक्रमित मिल चुके हैं। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिले के जैजैपुर ब्लाक का हसौद ग्राम पंचायत हॉट स्पॉट बन चुका है। अभी तक यहां 104 से अधिक मरीज मिल चुके हैं। वहीं जिले में अब तक 425 कोरोना संक्रमित पाए गए हैं जिसमें से 365 मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके हैं। वहीं जिले में अब 57 एक्टिव मरीज है जिनका इलाज कोविड अस्पताल जांजगीर और एम्स रायपुर में चल रहा है।