जांजगीर चांपा। मकर संक्रांति पर आज श्रद्धालुओं ने शिवरीनारायण के महानदी में सुबह स्नान किया और पूजा अर्चना कर दान किया। विभिन्ना घाटों में श्रद्घालुओं की भीड़ सुबह से ही थी।शिवरीनारायण महानदी के मुख्य घाटों में पर स्नान के लिए श्रद्धालुओं का सुबह 5 बजे से पहुंचना प्रारंभ हो गया था। महानदी के मुख्य घाट बाबा घाट, राम घाट,साव घाट, काली घाट, रपटा घाट, डोंगा घाट, पचरी घाट में भक्तों की भीड़ थी।
पुण्य स्नान व दीपदान करने के बाद भक्त पूरे परिवार के साथ भगवान नरनारायण का दर्शन करने पहुंचे। इस दौरान भगवान शिवरीनारायण का आकर्षक श्रृंगार किया गया था। वहीं खिचड़ी का भोग लगाया गया था। श्रद्धालुओं ने पूजा-अर्चना कर परिवार जनों की खुशहाली की कामना की। मकर संक्रांति के पर्व को देखते हुए श्रद्धालुओं के लिए नगर के मुख्य मंदिरो में विशेष व्यवस्था की गई थी। मठ मंदिर में दर्शन के लिए पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को खिचड़ी प्रसाद का वितरण किया गया। जिसका मंकर सक्रति पर्व पर विशेष महत्व रहता है।
मकर स्नान के लिए पहुंचने वाले श्रद्धालुओं के लिए नगर के समाजसेवियो ने भी अपने अपने स्तर पर श्रद्धालुओं की सेवा के लिए खिचड़ी प्रसाद की व्यवस्था की थी। वहीं नगर पंचायत द्वारा मकर संक्रांति पर्व को देखते हुए महानदी के घाटों की सफाई पर विशेष ध्यान दिया गया था। मकर सक्रांति में दान का विशेष महत्व होता है इस कारण श्रद्धालुओं ने महानदी में स्नान कर दीपदान किया। वहीं भगवान नर नारायण का दर्शन कर किए। ऐसी मान्यता है कि सक्रांति पर्व पर किया गया दान का लाभ पूरे साल भर मिलता है इसलिए भक्त मकर संक्रांति पर गरीबों दीनदुखियों को अन्ना,तिल लड्डू, धन, उड़द की दाल आदि का दान किए।

Previous articleएल्यूमिनियम उत्पादन में अग्रणी कंपनी बनी नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र की बड़ी उपभोक्ता
Next articleबेमौसम बारिश से उद्यानिकी फसलों को हुए नुकसान की जानकारी देने टोल फ्री नम्बर जारी