कोरबा। सूर्य पुत्र शनि देव की कृपा दृष्टि और कुदृष्टि को लेकर कई तरह की मान्यताएं युगों से चल रही है। सोमवार की सुबह कोरबा में भी ऐसा हुआ, जबकि चोरी के इरादे से शनि मंदिर में घुसे एक चोर का हाथ दानपेटी में फंस गया। दूसरे ने सहायता करनी चाही। इस दौरान आसपास के लोगों ने चोरों को घेर लिया। उनकी आपराधिक पृष्ठभूमि के बारे में पुलिस जानकारी इकट्ठी कर रही है। नगर के कोतवाली पुलिस थानांतर्गत साकेत नगर को जाने वाले रास्ते में हसदेव बांयी तट नहर पुल के पास शनि देव का मंदिर है। सोमवार को सुबह यहां बिना नंबर की बाइक से दो युवक पहुंचे। उन्होंने मंदिर में चोरी की कोशिश की। एक युवक ने दानपेटी में हाथ डाला और वहीं फंस गया। दूसरे युवक ने उसकी सहायता करनी चाही। मंदिर में खटर-पटर की आवाज सुनकर आसपास के लोग सक्रिय हुए। इस बीच पुजारी और उसका पुत्र भी यहां पहुंच गया। पूछताछ के दौरान दोनों आरोपियों ने यहां-वहां की बातें बनाना शुरू कर दी। इस दौरान पुलिस यहां पहुंची। पता चला कि दोनों युवक बालको क्षेत्र के रहने वाले हैं। कुछ और घटनाओं में उनकी संलिप्ता होने की जानकारी होने पर आगे की पूछताछ की जा रही है।