नईदिल्ली, २5 नवंबर [एजेंसी]।
असम के साथ सीमा विवाद के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा की आज मुलाकात हुई है। इस मुलाकात के दौरान हाल में ही सीमा पर हुई झड़प को लेकर कोनराड संगमा ने केंद्रीय एजेंसी से जांच करवाने की मांग की है। इसको लेकर गृहमंत्री की ओर से उन्हें आश्वासन भी मिला है। ऐसा दावा मेघालय के मुख्यमंत्री की ओर से किया गया है। अमित शाह से मुलाकात के बाद संगमा ने कहा कि आज हमारी मुलाकात गृह मंत्री अमित शाह से हुई। मुकरोह में असम पुलिस के तरफ से हुई फायरिंग में 6 लोगों की जान चली गई। घटना के बारे में हमने गृह मंत्री को जानकारी दी है।संगमा ने आगे कहा कि हमने भारत सरकार से इस घटना की केंद्रीय एजेंसी जांच गठित करने का अनुरोध किया है। केंद्रीय गृह मंत्री ने एक केंद्रीय एजेंसी के तहत जांच का आश्वासन दिया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमने उनसे मांग की है कि जिनकी मृत्यु हुई है उन्हें न्याय मिलना चाहिए और केंद्रीय एजेंसी द्वारा जांच करानी चाहिए। जो लोग इसके लिए जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने हमारी बात सुनी और जल्द ही केंद्रीय एजेंसी की जांच हो। उन्होंने दावा किया कि फिलहाल राज्य में कानून व्यवस्था कायम है। हम अपने लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न हितधारकों के साथ संपर्क में हैं और शांति बनी रहे। संगमा ने यह भी कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री के साथ हमारी बैठक में, हमने इस बात पर जोर दिया कि मेघालय में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए और पड़ोसी राज्यों से पूर्ण समर्थन मिलना चाहिए। वहीं, एक दिन पहले असम मंत्रिमंडल ने घोषणा की थी कि वह इस हिंसा की जांच सीबीआई को सौंपेगा तथा उसने राज्य पुलिस से नागरिक अशांति से निपटने के दौरान संयम से काम लेने को कहा है। वेस्ट कार्बी आंगलोग जिले में मंगलवार तड़के असम-मेघालय सीमा पर संदिग्ध रूप से अवैध लकड़ी ले जा रहे एक ट्रक को असम पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद भड़की हिंसा में एक वन कर्मी एवं मेघालय के पांच ग्रामीणों की मौत हो गई।
————-