अमेरिकी दवा कंपनी मॉडर्ना इंक ने कहा है कि उसकी प्रयोगात्मक वैक्सीन कोविड-19 की रोकथाम में 94.5 फीसदी प्रभावी पाई गई है। कंपनी ने यह आंकड़ा वैक्सीन के अंतिम चरण के ट्रायल से मिले अंतरिम डाटा के आधार पर दिया है। कंपनी ने कहा है कि वैक्सीन के अभी तक के ट्रायल के परिणाम उत्साहजनक रहे हैं।

माना जा रहा है कि अगले साल की शुरुआत में कोरोना की कोई न कोई वैक्सीन बाजार में उपलब्ध हो जाएगी। लेकिन, इस बीच वैक्सीन बना रही फार्मा कंपनी फाइजर के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि अगर वैक्सीन बन भी जाती है तो उसे अपना असर दिखाने में समय लगेगा। तुरंत ही संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आएगी।