बालकोनगर। देश के प्रमुख एल्यूमिनियम उत्पादक भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) को वर्ष 2021 का ‘मोस्ट ट्रस्टेट ब्रांड्स ऑफ इंडिया’ के सम्मान से नवाजा गया। सीएनबीसी टीव्ही 18 की ओर से आयोजित समारोह में देश के ऐसे प्रतिष्ठानों को सम्मानित किया गया जो वैश्विक महामारी कोविड-19 के विपरीत प्रभाव के बीच देश की सामाजिक और आर्थिक प्रगति के साथ ही राष्ट्र निर्माण की विभिन्न गतिविधियों में निरंतर उत्कृष्ट योगदान दे रहे हैं। बालको को मिला यह सम्मान उसके उत्कृष्ट प्रचालन, उत्पादन, उत्पादकता, गुणवत्ता, नवाचार तथा बालको के प्रति ग्राहकों के विश्वास एवं संतुष्टि का द्योतक है।
व्यवसाय प्रबंधन परामर्शदाता फर्म टीम मार्क्समेन ने मूल्यांकन प्रक्रिया के अंतर्गत देश के लगभग 5 लाख गांवों और कस्बों में सर्वे कराया। सर्वे में भारत के सर्वाधिक विश्वसनीय ब्रांड्स की पहचान के लिए चैनल सहयोगियों और ग्राहकों की राय ली गई। सर्वे में यह पाया गया कि एक ब्रांड के तौर पर ग्राहकों के बीच बालको की विशिष्ट पहचान है। बालको के प्रति ग्राहकों का विश्वास मजबूत है। बदलते व्यावसायिक वातावरण में वैश्विक स्तर के एल्यूमिनियम उत्पादकों के बीच बालको के उत्पादों ने उत्कृष्टता हासिल की है।
बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक अभिजीत पति ने बालको को ‘देश के सर्वाधिक भरोसेमंद ब्रांड’ का सम्मान मिलने पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने इस सफलता का श्रेय बालको कर्मचारियों, व्यवसाय के साझेदारों और स्टेकहोल्डरों के उत्कृष्ट योगदान को दिया।
बालको के 51 फीसदी शेयर वेदांता लिमिटेड और 49 फीसदी शेयर भारत सरकार के नियंत्रण में है। छत्तीसगढ़ के कोरबा में बालको की वार्षिक एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता 5.70 लाख टन है। इसे देश के सबसे सफल विनिवेश एवं निजीकरण में से एक माना जाता है। वर्ष 2001 में बालको की एल्यूमिनियम उत्पादन क्षमता 1 लाख टन प्रति वर्ष थी। विनिवेश के बाद बालको की उत्पादन क्षमता में लगभग छह गुना वृद्धि हुई। बालको के प्रचालन को विश्वस्तरीय बनाने और विकास को गति देने के लिए अत्याधुनिक तकनीकों की स्थापना की गई है। बालको ‘शून्य क्षति, शून्य अपशिष्ट एवं शून्य उत्सर्जन’ की नीति का अनुसरण करते हुए व्यवसाय प्रचालन एवं उच्च गुणवत्ता के उत्पादों के क्षेत्र में विश्वस्तरीय मानदंडों का पालन करता है। सामुदायिक उत्तरदायित्व के अंतर्गत अनेक परियोजनाएं संचालित की जाती हैं जिससे प्रचालन क्षेत्रों में जरूरतमंद नागरिकों के सामाजिक-आर्थिक विकास में मदद मिल रही है। वेदांता लिमिटेड विश्व की 6वीं सबसे बड़ी वैविध्यीकृत प्राकृतिक संसाधन कंपनी एवं देश में एल्यूमिनियम की सबसे बड़ी उत्पादक कंपनी है। छत्तीसगढ़ के कोरबा में बालको के एल्यूमिनियम स्मेल्टर की प्रचालन क्षमता 0.57 मिलियन टन प्रति वर्ष है। मूल्य सवंर्धित एल्यूमिनियम उत्पादों के क्षेत्र में यह अगुवा है जिसके विभिन्न उत्पादों का प्रयोग कोर उद्योगों में महत्वपूर्ण अनुप्रयोगों में होता है।
भारत भर में फैले अपने विश्वस्तरीय स्मेल्टरों, विद्युत उत्पादन संयंत्रों और एल्यूमिना रिफाइनरी से एल्यूमिनियम धातु और उसके अनेक अनुप्रयोगों के जरिए हरित और समृद्ध भविष्य के निर्माण में कंपनी का महत्वपूर्ण योगदान है।