रायपुर। राजधानी रायपुर जिले की सीमा पर कोरोना जांच को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। सीएमएचओ मीरा बघेल के प्रस्ताव को खारिज करते हुए जिला प्रशासन ने सीमा पर कोरोना जांच नहीं होने की बात कही है। इस पर कहा कि ऐसा करने से यातायात प्रभावित होगा।

कुम्हारी टोल नाका हो या विधानसभा रोड से रोजाना दो से ढाई लाख लोगों का राजधानी आना होता है। इन मुख्य मार्गों पर हर दिन ट्रैफिक का दबाव होता है। ऐसे में यहां लोगों को रोककर कोरोना जांच संभव नहीं होगा। ऐसे करने से ट्रैफिक की समस्या होगी।

बता दें कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएमएचओ मीरा बघेल शहर के 4 प्रमुख मार्गों में एंटीजन टेस्ट का प्रस्ताव प्रशासन को दिया था। वहीं आज जिला प्रशासन ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया। बता दें कि शहर में सिर्फ 4 एंट्री पाइंट नहीं बल्कि 10 से बाहर 12 ऐसे जगह हैं जहां से लोग शहर में एंट्री करते हैं। इस बीच सभी की व्यवहारिक रूप से कोरोना जांच नहीं की जा सकती है। दूसरी ओर एंटीजन टेस्ट को लेकर लोगों और डॉक्टरों में शंका रहता है। इन सभी बातों को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने सीमा पर कोरोना जांच के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है।