रायपुर/रायपुर के रेलवे स्टेशन में दुरंतों ट्रेन से डायरेक्टर रेवेन्यू इंटेलिजेंस (DRI) की टीम ने एक गोल्ड तस्कर को पकड़ा है। खबर है कि रायपुर और छत्तीसगढ़ के कई सराफा कारोबारियों से इसका संपर्क था। गोल्ड की एक बड़ी डील होने वाली थी इससे पहले ही अफसरों की टीम ने तस्कर को ट्रेस कर लिया।

बांग्लादेश से सोने की स्मगलिंग का खुलासा
DRI की टीम ने बताया है कि यह सोना बांग्लादेश से लाया जा रहा था। कोलकाता से तस्कर इस सोने को लेकर नागपुर जाने के लिए निकला था। तस्कर के पास से 3.33 किलो सोने के बिस्किट बरामद हुए हैं। बिस्किट कई साइज के हैं, जिसमें एक का साइज मोबाइल फोन जितना है। सोने की कीमत 1.65 करोड़ आंकी जा रही है।

कमर में छुपा रखा था सोना
DRI की टीम ने जिस व्यक्ति को पकड़ा है। उसने अपनी कमर में एक कपड़े की पट्टी के भीतर सोने के बिस्किट फंसा रखे थे। जिसे कपड़ों के अंदर बेल्ट की तरह अपनी कमर पर बांध रखा था। तलाशी में जब शख्स ने अपनी कमर से यह 1.65 करोड़ की बेल्ट उतारी और सोने के बिस्किट बाहर निकाले तो अफसर भी हैरान थे।

DRI को मिले सिंडिकेट के 5 बड़े नाम
तस्करी के एक मामले में डीआरआई की टीम को सिंडिकेट के 5 बड़े नाम भी मिले हैं, जिनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की जा रही है। बताया जा रहा है कि सोने की डील हवाला के जरिए हुई और बड़ा पेमेंट बांग्लादेश स्थित इस सिंडिकेट के सरगना को भेजा गया।

नागपुर जा रहा था तस्कर
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जिसे DRI की टीम ने पकड़ा वो हावड़ा से नागपुर जा रहा था। अब टीम इस तस्कर से पूछताछ कर रही है। रेड की कार्रवाई में रायपुर RPF की टीम ने भी अफसरों का सपोर्ट किया। खबर है कि इस तस्कर से मिली टिप के मुताबिक DRI की टीम रायपुर, महाराष्ट्र और बंगाल के कुछ ठिकानों पर दबिश दे सकती है। तस्कर के आका की तलाश अफसरों को है।

Previous article20 JANUARY 2022: e-paper
Next articleमनरेगा लोकपालों का मानदेय बढ़ा:छत्तीसगढ़ में प्रति सीटिंग 2250 रुपए मिलेंगे, अभी तक एक हजार रुपए मिल रहे थे