ोरबा। उत्तर प्रदेश के लखनऊ में पाली पुलिस ने दबिश देने के साथ एक आरोपी को दबोच लिया। उस पर किशोरी को अपहृत करने के साथ दुष्कर्म करने का आरोप है। आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया।
पाली टीआई लीलाधर राठौर, हेड कांस्टेबल अश्वनी निरंकारी, सरजीत सिंह और सायबर सेल के कर्मी रवि चौबे ने इस कार्रवाई को लखनऊ में अंजाम दिया। बताया गया कि 08 जनवरी को प्रार्थी ने शिकायत दर्ज करायी थी कि नाबालिग 07 जनवरी से लापता है। पुलिस ने फौरीतौर पर 363 के अंतर्गत प्रकरण दर्ज किया। पूछताछ में जानकारी मिली कि नाबालिग के पास एक मोबाइल है, उस नंबर का सीडीआर प्राप्त किया गया, जिस पर लोकेशन लखनऊ दर्शित हुई। उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दी गई। 08 जनवरी को पुलिस की टीम लखनऊ रवाना हुई। पुलिस ने मौके पर प्रयास करते हुए आरोपी सुनील गंधर्व को गिरफ्तार करने के साथ अपहर्ता को बरामद किया। महिला पुलिस अधिकारी से उसका बयान लिया गया, जिसमें पीडि़ता के साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई। इस मामले में 376, 2 व 5,6 पाक्सो एक्ट दर्ज किया गया है।