जांजगीर-चांपा। हमारा देश भी विश्व की तरह महामारी के इस भयावह परिस्थिति का सामना कर रहा है लोग देश के विभिन्न राज्यों से अपने-अपने गांव को वापस हो रहे हैं बीमारी के संक्रमण का विस्तार छत्तीसगढ़ में न हो इसके लिए हम सब को सजग एवं सतर्क रहना होगा। यह बातें श्री दूधाधारी मठ पीठाधीश्वर एवं पूर्व विधायक राजेश्री डॉक्टर महन्त रामसुन्दर दास महाराज ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहीं। उन्होंने कहा कि हम सभी देशवासी इस समय महामारी के भयावह परिस्थिति का सामना कर रहे हैं ऐसे में प्रत्येक व्यक्ति का यह कर्तव्य है कि वह अपनी जानकारी स्वयं सार्वजनिक कर शासन और प्रशासन का सहयोग करें जिससे कि इसके नियंत्रण में पूर्ण सफलता प्राप्त किया जा सके उन्होंने कहा कि इससे जहां एक ओर संक्रमित परिवार को उचित स्वास्थ्य सेवा राज्य शासन के द्वारा प्राप्त होगा वहीं दूसरी ओर समाज के अन्य लोग इस बीमारी के चपेट में आने से बच जाएंगे श्री महन्त ने कहा कि राज्य शासन जनता के हित को ध्यान में रखकर कार्य कर रही है उनका पूरा ध्यान इस बात पर केंद्रित है कि हम अपने राज्य को इस महामारी से किसी भी तरह से बचा सकें तथा कोई जनहानि न हो यह तभी संभव है जब इसमें हम सब अपनी अपनी शक्ति एवं सामथ्र्य के अनुसार सरकार का सहयोग करें जन जागरूकता के अभाव में बाहर के राज्यों से पर्यटनए तीर्थाटन एवं रोजी मजदूरी करके आए हुए लोग अपनी जानकारी शासन तक पहुंचाने में या तो हिचक महसूस करते हैं या भय वस बताने में संकोच कर जाते हैं इससे बीमारी के बढऩे का एवं परिवार को नुकसान होने का अंदेशा अधिक रहता है। याद रखें शासन पूरी तरह से मुस्तैद है लेकिन उनकी सफलता हम सब के सहयोग पर ही निर्भर करेगा हमें स्वयं बीमारी से बचना है और समाज को भी संक्रमित होने से बचाना है इसके लिए लोगों को स्वयं स्थानीय प्रशासन को गांव में कोटवार,ए सरपंच, पंच या नगरी निकाय के जनप्रतिनिधियों के माध्यम से अपनी जानकारी सरकार तक पहुंचाएं, बहुत से हेल्पलाइन नंबर सरकार के द्वारा जारी किए गए हैं उससे भी हम अपनी जानकारी शासन प्रशासन तक पहुंचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि लाकडाउन के कारण राज्य के विभिन्न हिस्सों से भी मजदूर एवं इसमें फंसे हुए लोग अपने अपने गांव को वापस पैदल भूखे .प्यासे सफर कर रहे हैं जिन गांव या नगर से होकर वे गुजर रहे हों वहां के स्थानीय जिम्मेवार पंच सरपंचए नगरीय निकाय के जिम्मेदार पदाधिकारी गण उनके न्यूनतम आवश्यकता भोजन पानी की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग द्वारा जनहित में जारी सामाजिक दूरी का पालन करते हुए सुनिश्चित करें यह भी जनहित में किया गया बहुत बड़ा कार्य होगा।