कोरबा। कोल इंडिया वेलफेयर बोर्ड की टीम विभिन्न क्षेत्रों के दौरे पर हैं। आज दोपहर बाद वह दीपका क्षेत्र में होगी। कई तरह का निरीक्षण उसे करना है। इस लिहाज से स्थानीय स्तर पर व्यापक तैयारी एसईसीएल प्रबंधन ने की है। ऐसा इसलिए किया गया, ताकि सबकुछ अच्छा-अच्छा नजर आये।
वार्षिक निरीक्षण की प्रक्रिया में ऐसे दौरे शामिल होते हैं। कोल इंडिया वेलफेयर बोर्ड की टीम इन दिनों एसईसीएल में है। आज सुबह उसने विश्रामपुर क्षेत्र का दौरा किया और वहां की गतिविधियां देखीं। दोपहर बाद टीम के सदस्य दीपका में होंगे और यहां कर्मचारियों के कल्याण संबंधित कार्यों, बुनियादी सुविधाओं का जायजा लेंगे। जैसा की हर बार होता रहा है, अबकि बार भी प्रबंधन ने यहां सडक़ों को बेहतर किया है, आसपास में सफाई करायी है। जहां से शिकायतें हो सकती है, उन पर विशेष ध्यान दिया गया है। प्रबंधन के एक अधिकारी ने इस मामले को लेकर यह भी जोड़ा कि जहां कुछ अच्छा है उसे और अच्छा बनाया जाए, यह हर हाल में होना चाहिए। उदाहरण के साथ यह बात उन्होंने स्पष्ट की- अगर चाय अच्छी बनी हो और उसमें ऊपर मलाई डाल दी जाए तो स्वाद और अच्छा हो जाता है।