चीन, 0५ दिसम्बर [एजेंसी]।
चीन के बीजिंग, तियानजिन, चेंगदू और शेनझेन जैसे कई शहरों में शनिवार को सार्वजनिक परिवहन के लिए कोविड-19 जांच की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया गया। अधिकारियों ने देशभर में सरकार के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों के बीच अपने कोविड संबंधी नियमों में नरम रुख अपनाया है। सरकारी मीडिया ने शनिवार को बताया कि चेंगदू और ग्वांगझोऊ में नागरिकों को अधिकतर सार्वजनिक स्थानों में प्रवेश करते समय कोविड जांच की रिपोर्ट दिखाने की जरूरत नहीं है।बीजिंग में अधिकारियों ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि अगले सोमवार से बसों तथा सबवे में अब 48 घंटे पहले के न्यूक्लेइक एसिड जांच रिपोर्ट दिखाने की जरूरत नहीं होगी। अधिकारियों ने कहा कि हालांकि, यात्रियों को मास्क लगाना होगा।
कोविड को लेकर सख्त लॉकडाउन के खिलाफ शंघाई और बीजिंग समेत अनेक शहरों में पिछले सप्ताहांत में भारी प्रदर्शन हुए जिसके बाद पाबंदियों में ढील दी गयी। लोगों ने इस लॉकडाउन से आजीविका प्रभावित होने की बात कही। इन प्रदर्शनों में चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग और सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) से सत्ता से हटने की भी मांग की गयी। शी ने यूरोपीय संघ के अध्यक्ष चाल्र्स मिशेल से बृहस्पतिवार को कहा कि तीन साल की महामारी से हताश छात्रों ने प्रदर्शन किये। चीन में प्रदर्शनों के बाद सभी बड़े शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के आपात स्थिति निदेशक डॉ माइकल रियान ने कहा कि चीन में कोविड संबंधी कुछ पाबंदियों में ढील दिये जाने से संगठन खुश है।