महासमुंद। जिले में रविवार की शाम साहू समाज के युवक युवती परिचय सम्मेलन का कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में खास तौर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, विधायक धनेंद्र साहू समेत समाज के प्रमुख लोग शामिल हुए। कार्यक्रम का मकसद समाज के शादी योग्य युवक-युवतियों को एक जगह लाकर परिवारों से उनका परिचय करवाना था।

मंच पर अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि एक लड़की का परिचय मैं भी देना चाहता हूं.. वो 32 साल की है, रंग गोरा, पहले जिला पंचायत स्तर की नेता थी अब विधायक बन चुकी है। यह बातें सुनते ही हॉल में तालियां और ठहाके गूंज उठे । सभी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का इशारा समझ चुके थे मंच पर कसडोल से विधायक शकुंतला साहू भी मौजूद थीं। असल में वो इनकी शादी की बात कर रहे थे। लोगों ने सीएम ने विधायक का गोत्र भी पूछ लिया यह सुनकर सीएम अपनी हंसी रोक नहीं पाए फिर विधायक को मंच पर बुलाया। माइक पर शकुंतला साहू ने कहा कि वो भूपेश बघेल के आशीर्वाद से विधायक हैं और आशीर्वाद से ही शादी करेंगी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने समाज के युवक – युवती परिचय सम्मेलन के कार्यक्रम के आयोजन की तारीफ करते हुए कहा कि साहू समाज एक प्रगतिशील समाज है जो लगातार समाज में सुधार के लिए अपने नए प्रयासों की वजह से जाना जाता है । पुराने समय में मड़ई मेले होते थे। इसमें युवक-युवती एक दूसरे को जानते थे, समझते थे और परिवारों के बीच रिश्ते तय होते थे। अब इसका स्वरूप बदला है। अब युवक युवती परिचय सम्मेलन होते हैं। यह अच्छा प्रयास है इससे खर्च बचता है और समाज में जुड़ाव भी होता है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस कार्यक्रम के दौरान घोषणा की। उन्होंने कहा कि महासमुंद समेत पांच जिलों में 20 लाख रुपए के मदद से समाज के लिए सामाजिक को भवनों का निर्माण किया जाएगा। महासमुंद जिले के बार नवापारा, सिरपुर बौद्ध कालीन स्मारकों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विकसित करने का काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गांवों में आज भी साहू समाज के लोग तेलघानी का इस्तेमाल करते हैं। इससे तेल निकाला जाता है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तेलघानी बोर्ड बनाने की घोषणा की जो ग्रामीण अंचलों में चली आ रही इस परंपरा को सहेजने और तेल निकालने की प्रोसेसिंग यूनिट मशीनें और रोजगार देने के संबंध में काम करेगा।