प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के टीके के विकास कार्य की समीक्षा के लिए तीन शहरों का अपना दौरा शनिवार को आरंभ किया. वह सबसे पहले अहमदाबाद के निकट जाइडस कैडिला की उत्पादन इकाई में गए. प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद से करीब 20 किमी दूर स्थित जाइडस कैडिला के चांगोदर औद्योगिक क्षेत्र में स्थित अनुसंधान केंद्र में टीके के विकास की प्रक्रिया का अवलोकन किया. इस दौरान मोदी ने पीपीई किट पहन रखी थी.

अदार पूनावाला ने कहा, ”ऑक्सफोर्ड से जुड़ी वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है, हम हर रोज पांच से छह करोड़ डोज बना रहे हैं. लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने के इंतजान किए जा रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी वैक्सीन की तैयारियों से संतुष्ट नजर आए. जुलाई तक हमारा तीस से चालीस करोड़ वैक्सीन बनाने का लक्ष्य है.”

उन्होंने कहा, “पीएम मोदी को पहले से वैक्सीन प्रोडक्शन के बारे में जानकारी थी. हमें उन्हें ज्यादा बताने की जरूरक ही नहीं पड़ी. हम उनकी जानकारी से प्रभावित थे. हमारी नई फैसिलिटी से प्रधानमंत्री बेहद प्रभावित दिखे.”

प्रधानमंत्री के दौरे के बाद सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने कहा, ”पीएम मोदी से वैक्सीन की तैयारी को लेकर बात हुई. तीसरे चरण के ट्रायल पर हमारी नजर है. पीएम मोदी के सभी वैक्सीन कमियां और ताकत बताई. सीरम इंस्टीट्यूट सबसे पहले देश के लिए वैक्सीन बनाएगा.”

पुणे के सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया का दौरा करने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया की टीम के साथ अच्छी बातचीत हुई. उन्होंने अब तक की अपनी प्रगति के बारे में और आगे वैक्सीन निर्माण को कैसे बढ़ाया जाएगा इस बारे में विवरण साझा किए. साथ ही उनकी मैनुफैक्चरिंग सुविधा का भी जायजा लिया.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त पुण के सीरम इंस्टिट्यूट में वैक्सीन से जुड़ी तमाम अहम जानकारियां ले रहे हैं. आपको बता दें कि सीरम इंस्टिट्यूट में ऑक्सफोर्ड और एस्ट्राजेनेका मिलकर कोवीशील्ड नाम की वैक्सीन बना रही हैं. पीएम तमाम जानकारियां लेने के बाद शाम साढ़े पांच बजे सीरम इंस्टिट्यूट से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुणे पहुंचने के बाद अब हेलिकॉप्टर के ज़रिए सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया पहुंचे हैं. पीएम वहां कोरोना वायरस वैक्सीन का जायज़ा लेंगे. पीएम इंडियन एयरफोर्स के हेलिकॉप्टर से सीरम इंस्टिट्यूट पहुंचे. पीएम के लिए वहां एक कॉन्फ्रेंस रूम बनाया गया है, जहां उन्हें 15 मिनट तक वैज्ञानिक वैक्सीन के बारे में जानकारी देंगे. जानकारी के मुताबिक कोवीशील्ड वैक्सीन की करोड़ों वैक्सीन तैयार हो चुकी है.

अहमदाबाद में जायडस बायोटेक और हैदराबाद की भारत बायोटेक लैब में कोरोना वायरस वैक्सीन के विकास का जायज़ा लेने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ देर में पुण के सीरम इंस्टिट्यूट पहुंचेंगे. सीरम इंस्टिट्यूट के लैब में भी पीएम कोरोना वैक्सीन से जुड़ी जानकारी लेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी अहमदाबाद के बाद हैदराबाद पहुंचे जहां वह कोविड-19 का टीका विकसित कर रही कंपनी ‘भारत बायोटेक’ के केन्द्र का दौरा किया. भारत बायोटेक द्वारा विकसित किए जा रहे कोविड-19 टीके के तीसरे चरण का ट्रायल जारी है.