छत्तीसगढ़ में अभी 6 अगस्त तक के लिए ही लॉकडाउन है ” सोशल मीडिया में 31 अगस्त तक लॉकडाउन की खबर सिर्फ अफवाह है । दरअसल कल से सोशल मीडिया में GAD का एक आदेश जबरदस्त तरीके से वायरल हो रहा है । इस आदेश में 31 अगस्त तक लॉकडाउन बढ़ाने की बात कही जा रही है । जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है , लेकिन सोशल मीडिया में वायरल उस पोस्ट के आधार पर कई जगहों पर ये खबरें पोस्ट कर दी गयी कि 31 अगस्त तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है ।

दरअसल हुआ ये था कि जीएडी सिकरेट्री कमलप्रीत सिंह ने प्रदेश के सभी कलेक्टरों को भारत सरकार के आदेश की उस प्रति को भेजा था , जिसमें 31 अगस्त की अवधि में किन – किन गतिविधियों में छूट के साथ लॉकडाउन जारी रखने का जिक्र था । दरअसल ये कलेक्टरों के लिए राज्य सरकार का सूचनात्मक आदेश था , लेकिन लोगों ने इसे जिलों के लिए निर्देशात्मक आदेश समझ लिया । लिहाजा कंफ्यूजन की स्थिति ऐसी बनी कि , पूरे प्रदेश में 31 अगस्त तक के लिए लॉकडाउन लागू करने की बात कही जानी लगी ।

वायरल आदेश को लेकर खुद जीएडी सिकरेट्री कमलप्रीत सिंह ने बताया कि…

” भारत सरकार के निर्देश ज़िलों को सूचनार्थ भेजे गए हैं । आदेश के पारा -2 में राज्य शासन के पूर्व निर्देशों के जारी रहने के बारे में भी कहा गया है।भारत सरकार का लाकडाउन कुछ सीमित गतिविधियों को लेकर ही प्रभावी है , शेष निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिए जाते हैं । अभी जिला कलेक्टर्स को लाकडाउन के बारे में निर्णय लेने के जो निर्देश दिये गये थे , वो अभी प्रभावी हैं । जो भारत सरकार के आदेश में पहले बंद रखने का आदेश दिया गया था , और जिसे बाद में अलाउ कर दिया गया मतलब अब जिस पर रोक नहीं है , वो राज्य सरकार के अधिकार में ही है .. जैसे कि बाज़ार का खुलना बंद होना .. क्या खुले ना खुले .. पर केंद्र ने कुछ पर सीधी रोक लगाई है जैसे बार , सामाजिक सम्मेलन इत्यादि पर रोक तो वो जारी रहेगी ही ”