कोरबा. आबकारी मंत्री कवासी लकमा के बयान पर पूर्व गृहमंत्री ननकी राम का पलटवार करते हुए कहा कि मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं. पर पहले लखमा जवाब दे कि झीरमघाटी में नक्सली नरसंहार के दौरान मैं कवासी लखमा हूं कहने पर नक्सली फायरिंग बंद कर उन्हें क्यों छोड़ दिया. कांग्रेस के नेताओं का नक्सलियों से कनेक्शन रहा है. इनमे सबसे पहला नाम लखमा का है. इसकी पहले जांच की जाए. लखमा ने कुछ दिन पहले पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह व ननकी राम का नार्को टेस्ट कराने की मांग की थी. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार के दबाव पर इसके पूर्व डीएमएफ की बैठक में विकास कार्यो को स्वीकृति नहीं मिल सके.