जांजगीर-चांपा। घर की बिजली बंद होने, ट्रांसफार्मर खराब होने, लो-वोल्टेज, मीटर में आग लगने समेत बिजली से संबंधित अन्य समस्याओं के निराकरण के लिए अब बिजली ऑफिस में फोन लगाने नहीं पड़ेंगे। छत्तीसगढ़ सरकार ने मोर बिजली एप लांच किया है। इसमें बिजली उपभोक्ताओं के समस्याओं का निराकरण तत्काल किया जाएगा।
इसके अलावा अधिक बिल की शिकायतों समेत अन्य समस्याओं को लेकर भी इस एप पर शिकायत की जा सकेगी। खास बात ये है कि आपके मीटर के संबंध व बीते 6 महीने के बिजली खपत की पूरी जानकारी उपभोक्ता को एक क्लिक पर अपने मोबाइल में ही मिल जाएगी। इस एप से जिले के कनिष्ठ यंत्री व सहायक यंत्री जुड़े हुए हैं, जो उपभोक्ताओं के ऑनलाइन शिकायतों का निराकरण करेंगे। इसकी मॉनिटरिंग भी प्रदेश स्तर पर की जाएगी। इसका उद्देश्य बिजली से संबंधित शिकायतों को पारदर्शी बनाना है।सीएसईबी, चांपा संभाग के डीई केएन सिंह ने बताया कि मोर बिजली एप लांच किया गया है, इसमें विभागीय अधिकारियों को जोड़ा गया है। उपभोक्ता इसमें शिकायत कर सकेंगे, अधिकारी उसका निराकरण तत्काल करेंगे। समय पर निराकरण नहीं होने पर कारवाई भी हो सकती है। मोर बिजली एप एंड्रायड मोबाइल में काम करेगा। यह प्ले स्टोर में सीएसपीडीसीएल मोर बिजली नाम से उपलब्ध है। 10 अंकों का बीपी नंबर डालने के बाद मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके बाद एप का इस्तेमाल किया जा सकेगा। हर मोबाइल धारक एप को समझ सकें और इसका उपयोग कर सकें, इस लिहाज से एप को आसान बनाया गया है। बिजली कंपनी के सभी कर्मचारी भी एप डाउनलोड करेंगे। इसकी मॉनिटरिंग भी प्रदेश स्तर पर की जाएगी। एप के माध्यम से ऑनलाइन मॉनिटरिंग भी की जाएगी। बार-बार शिकायतों के बाद भी समस्याओं का निराकरण नहीं होता। ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे ज्यादा परेशानी रहती है। यहां हवा-तूफान आने के बाद हफ्ते या पखवाड़ेभर तक बिजली बंद रहती है। शिकायतों के बाद भी अधिकारी-कर्मचारी ध्यान नहीं देते। अब ऑनलाइन शिकायत करने के बाद निराकरण नहीं होने से कर्मचारियों पर सीधे कार्रवाई होगी। इसकी मॉनिटरिंग भी जिला स्तर पर कार्यपालन अभियंता करेंगे। उपभोक्ता घर बैठे ही अपने मोबाइल फोन से पिछले 6 महीने के बिजली बिल का विवरण, खपत पैटर्न, बिल पेमेंट, बिल भुगतान का विवरण, बिजली सप्लाई शिकायत व बिजली बिल हाफ योजना में प्राप्त छूट की जानकारी पा सकते है।एप की खास बात यह है कि इसमें केवल एक मोबाइल नंबर के माध्यम से एक से अधिक बीपी नंबरों को जोड़ा व हटाया जा सकता है और उनकी समस्त जानकारियां मोबाइल पर देख सकते हैं। इसके अलावा फीडबैक की सुविधा, संपर्क साधने कस्टमर केयर नंबर भी उपलब्ध हंै।