रायपुर: विधानसभा में आयोजित भूपेश कैबिनेट की बैठक खत्म हो गई है। बैठक में मंत्रियों ने सभी प्रस्तावों पर विस्तृत चर्चा की। बैठक बाद कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि संविधान दिवस के दिन 26 नवंबर को बलिदान दिवस का उल्लेख किया जाएगा। सदन की कार्यवाही चलेगी। मंत्रियों का संबोधन भी होगा।

बैठक से पहले कयास लगाए जा रहे थे कि आज होने वाली कैबिनेट की बैठक में अनुपूरक बजट को मंजूरी दी जा सकती है। इसके अलावा करीब आधा दर्जन प्रस्ताव लाए जाएंगे, हालांकि इन प्रस्तावों का ब्यौरा फिलहाल सामने नहीं आया है। बैठक में एक दिसम्बर से शुरू हो रही धान खरीदी को लेकर भी चर्चा होगी।

प्रदेश के 51 जगहों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। प्रथम चरण में राज्य सरकार ने सरगुजा से लेकर बस्तर के बीच स्थित आठ स्थलों का चयन किया है। इनमें सीतामढ़ी ( कोरिया),रामगढ़ ( सरगुजा),शिवरीनारायण ( जांजगीर चाँपा),तुरतुरिया (बलौदा बाज़ार),चंद्रखुरी (रायपुर),राजिम ( गरियाबंद),सिहावा (धमतरी ) और जगदलपुर ( बस्तर ) शामिल हैं। इस परियोजना की शुरुआत माता कौशल्या मंदिर चंद्रखुरी से की जाएगी।

इन अहम प्रस्तावों पर लगी मुहर
👉विस सत्र के प्रारम्भ में राजगीत गाया जाएगा
👉अध्यादेशों को पारित किया जाएगा
👉अनुपूरक बजट और विनियोग विधेयक पर निर्णय लिया गया.
👉रामवन गमन पथ पर बड़ा निर्णय
👉पर्यटन पथ के रूप में विकसित किया जाएगा