कोरबा -आदिवासी विभाग ने स्याहीमूड़ी कोरबा में बनाए गए एजुकेशन हब के पास 80 करोड़ रुपये की निजी जमीन खरीदी है. इस मामले में EOW ने अपराध दर्ज हो गया, अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं.

जानकारी के मुताबिक डीएमएफ मद से नियमों के अनुसार इस मद से जमीन की खरीदी नहीं की जा सकती है. इसके बावजूद लगभग 80 करोड़ की निजी भूमि का जिला आदिवासी विभाग ने कर लिया है. मामले की शिकायत दस्तावेजों के साथ ईओडब्ल्यू तक पहुँची. शिकायत सही पाये जाने के बाद ईओडब्ल्यू ने अपराध दर्ज कर लिया है. जाँच टीम एजुकेशन हब के निर्माण के सम्बंध में दर्ज किए गए अपराध की विवेचना कर रही है.

उल्लेखनीय है कि उक्त जमीन का भुगतान के बावजूद आज तक विभाग के नाम से ट्रांसफर नहीं हुआ है. कोरबा आदिवासी विभाग के द्वारा किस मद से और किस कारण से इतनी महंगी भूमि क्रय की गई है और ये खरीदी नियमानुसार हुई है या नहीं इसकी जांच अधिकारी कर रहे हैं.