रामपुर चौकी क्षेत्र में एक सर्राफा व्यवसाई द्वारा नकली सोना को असली बताकर गोल्ड लोन में जमा कराया जाता था और उसके एवज में लोगों को मोटी रकम लोन दिलाया करता था जब इसका भंडाफोड़ हुआ तो लोगों ने इसकी शिकायत की थी इस मामले की जांच रामपुर चौकी पुलिस द्वारा की जा रही थी जांच में मामला सही पाए जाने के बाद पुलिस ने नकली सोना को असली बताने वाले जोड़ी सहित चार लोगों के खिलाफ धारा 420 34 के तहत मामला पंजीबद्ध कर चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस द्वारा मामले की तहकीकात की जा रही है कि जोड़ी ने कितने लोगों के साथ इस तरह की घटना को अंजाम दिया है और गोल्ड कंपनी को कितने का चूना लगाया है