कोरिया/(अविनाश चंद्र)। बैकुंठपुर जल संसाधन विभाग में काम करने वाले रमेश कुमार शुक्ला जोकि बिलासपुर के पास शक्ति नामक स्थान से स्थानांतरण होकर बैकुंठपुर में चौकीदार के पद पर पदस्थ हैं। उन्होंने बताया कि उनका सर्विस रिकॉर्ड विभागीय लापरवाही का शिकार हो गया है । साथ ही विभाग से मिलने वाले लाभ लाभांश भी नहीं मिल पा रहे हैं । उन्होंने अपने सर्विस रिकॉर्ड को मंगवाने के लिए जब शक्ति जल संसाधन विभाग में बात किया तो वहां के अधिकारियों ने बताया कि आपके सर्विस रिकॉर्ड को पुराने हो जाने के कारण दीमक खा गई है । साथ ही साल भर से चौकीदार रमेश कुमार शुक्ला अपने सर्विस रिकॉर्ड के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं । वर्तमान समय में कोरिया जिला के जल संसाधन विभाग में चौकीदार के पद पर पदस्थ हैं । वह अपनी बात कहते कहते रोने लगते हैं जब हम बैकुंठपुर जल संसाधन विभाग के उच्च अधिकारियों से बात करनी चाहिए तो वह इस पर बात करने से साफ मना कर रहे हैं । उनका कहना है कि इनका स्थानांतरण जहां से हुआ है । वहीं से सब चीज ठीक होगा अब सोचने वाली बात यह है कि जल संसाधन विभाग चाहे वह कोरिया बैकुंठपुर का हो जा बिलासपुर के नजदीक शक्ति नामक स्थान का हो इस प्रकार की लापरवाही से चौकीदार पर पदस्थ रमेश कुमार शुक्ला की परेशानियां कितनी बढ़ गई है इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है । चौकीदार रमेश कुमार शुक्ला ने यह भी बताया कि 1 साल से सर्विस रिकॉर्ड ना होने के कारण शासन के द्वारा मिलने वाली वेतन बढ़ोतरी और लाभांश नहीं मिल रहा है अब देखना यह होगा कि जल संसाधन विभाग में पदस्थ रमेश कुमार शुक्ला को उनके सर्विस रिकॉर्ड से संबंधित समस्त दस्तावेज कब और कैसे प्राप्त होगा।