कोरबा। वाहनों का दबाव सड़कों पर बढऩे के कारण इनकी उपयोगिता से प्रदूषण की समस्या भी बढ़ रही है। वाहनों के परिचालन पर रोजाना हजारों लीटर डीजल व पेट्रोल खप रहा है। ऐसे वाहनों का स्तर प्रदूषण के मानक अनुरूप हैं या नहीं, यह जांचने का काम नगर में किया गया। सड़क सुरक्षा सप्ताह पर इस कार्य को गंभीरता से करने के साथ चालकों के साथ समझाइश दी गई कि वे मानकों का ध्यान रखने के साथ वाहन चलायें।
इन दिनों 31 वां सड़क सुरक्षा सप्ताह मनाया जा रहा है। हर तरह से इस सप्ताह के अंतर्गत उन बातों को प्रचारित किया जा रहा है, जो वाहन चालकों के साथ-साथ सड़क के किनारे फुटपाथ पर चलने वाले लोगों के लिए आवश्यक है। सप्ताह के 6 वें दिन गुरूवार को कई स्थानों पर वाहन प्रदूषण जांच शिविर लगाए गए। परिवहन विभाग से मान्य एजेंसियों को इसके लिए अधिकृत किया गया। उन्होंने बम्पर छूट के साथ चालकों को प्रदूषण जांच की सुविधा उपलब्ध कराई। इसका लाभ लेने चालक उत्साहित नजर आये। संबंधित चालकों को इस आशय का प्रमाण प्रदान किया गया कि उनका वाहन प्रदूषण मानक के उपबंधों की श्रेणी में शामिल है। संबंधितों को अवगत कराया गया कि नए वाहनों के मामले में भी इसकी उपयोगिता होती है। लगातार नियम बदल रहे हैं। इसलिए चालकों को अपने वाहनों की चिंता करना चाहिए। यातायात विभाग ने बताया कि इसके लिए कोई लक्ष्य नहीं है। फिर भी प्रयास किया जा रहा है कि सभी वाहनों को प्रदूषण जांच के मामले में शामिल किया जाए। इससे पहले बुधवार को यातायात पुलिस ने जनजागरूकता के अंतर्गत शहर में बाइक रैली निकाली। इसके माध्यम से लोगों को संदेश दिया गया कि वे हरहाल में यातायात नियमों का पालन करें। सुरक्षा सप्ताह में कई प्रतियोगिताएं स्कूल स्तर पर आयोजित की गई। समापन अवसर पर पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह मीणा की ओर से विजेताओं को पुरस्कार दिए जाएंगे।
दो वाहन भिड़े, कुछ को आई खरोच
जिले के चोटिया इलाके में आज सुबह एक बस के साथ पिकअप की भिड़ंत हो गई। टक्कर हल्की थी, इसलिए बहुत ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। खबर है कि कुछ लोगों को सामान्य खरोच आयी है इसलिए उपचार की आवश्यकता नहीं हुई। इस घटना के बारे में गिरिवर प्रजापति ने पुलिस हेल्पलाइन को सूचना दी। इस आधार पर संज्ञान लिया गया।