नईदिल्ली, 18 जनवरी [एजेंसी]। एक ओर जहां निर्भया के माता-पिता और पूरा देश सात साल से उसके गुनहगारों को फांसी पर लटकता देखने का इंतजार कर रहे हैं, वहीं सुप्रीम कोर्ट की वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह के एक बयान ने नया विवाद खड़ा कर दिया है। दरअसल इंदिरा जयसिंह ने निर्भया की मां से अपील की है कि वह दोषियों को माफ कर दें। इंदिरा के इसी बयान से निर्भया की मां आशादेवी आहत हैं और उन्होंने नाराज होते हुए पूछा कि क्या आपकी बेटी या आपके साथ ऐसा होता तब भी आप यहीं कहतीं।
निर्भया की मां आशा देवी ने इंदिरा जयसिंह के बयान पर कहा है कि आखिर इंदिरा जयसिंह कौन होती हैं मुझे ऐसी सलाह देने वाली। भगवान कहे तब भी दोषियों को माफ नहीं करूंगी। पूरा देश निर्भया के दोषियों को फांसी पर झूलता देखना चाहता है।
उनके जैसे लोगों की वजह से ही रेप पीडि़तों को इंसाफ नहीं मिलता। आशा देवी ने आगे कहा कि मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि इंदिरा जयसिंह ने ऐसी बात कहने की हिम्मत की। मैं उनसे केस की सुनवाई के दौरान कई बार सुप्रीम कोर्ट में मिली हूं लेकिन उन्होंने कभी मेरा हालचाल नहीं लिया। अब वो दोषियों को माफ करने की बात कह रही हैं। ऐसे लोग ही रेप का समर्थन कर अपना जीवनयापन करते हैं, इसलिए रेप जैसी घटनाएं रुकती नहीं हैं।