रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल की कक्षा दसवीं परीक्षा 15 अप्रैल से प्रारंभ होकर 1 मई को समाप्त होगी तथा बारहवीं की मुख्य परीक्षा 3 मई से प्रारंभ होकर 24 मई को समाप्त होगी। मुख्य परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित की जायेंगी। इस वर्ष छात्रों को उन्हीं के स्कूलों में परीक्षा केन्द्र बनाकर, परीक्षा देने की व्यवस्था की जायेगी। परीक्षा केन्द्रों पर केन्द्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी किये गए कोरोना महामारी संक्रमण के बचाव के लिए सभी बिन्दुओं का पालन किया जाना अनिवार्य होगा। इस वर्ष प्रायोगिक परीक्षाएं 10 फरवरी से प्रारंभ की जायेंगी। इन परीक्षाओं में सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने के लिए एक विषय की प्रायोगिक परीक्षा एक दिन में 2-3 शिफ्ट में आयोजित की जा सकेंगी तथा छात्र संख्या अधिक होने की स्थिति में उसी विषय की परीक्षा एक से अधिक दिनों में भी ली जा सकेगी, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके। कोरोना महामारी के मद्देनजर प्रायोगिक परीक्षा में वाह्य परीक्षक की अनिवार्यता को समाप्त किया गया है। यथासंभव 10 मार्च 2021 तक परियोजना कार्य एवं प्रायोगिक परीक्षायें पूर्ण कर ली जायेंगी। इस संबंध में सभी शालाओं के लिए निर्देश जारी किये जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त कक्षा नवमी एवं ग्यारहवी की परीक्षाएं स्थानीय स्तर पर (Home Examination) आयोजित की जायेगी, अर्थात छात्र अध्ययनरत शाला में ही परीक्षा देंगे। संबंधित शाला के द्वारा ही परीक्षा के प्रश्न पत्र तैयार कराये जायेंगे, समय सारणी तैयार की जायेगी एवं मूल्यांकन कराकर परिणाम घोषित किए जायेंगे। सभी कार्य संबंधित शाला स्तर पर ही किए जायेंगे। इस संबंध में भी अलग से निर्देश जारी किये जा रहे है। मुख्य परीक्षा की समय-सारणी मण्डल की वेबसाइट www.cgbse.nic.in पर उपलब्ध है|